रेडियो आवृत्ति

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


3 किलोहर्ट्ज से 300 गीगा हर्ट्ज़ की आवृत्ति वाली तरंगों को रेडियो आवृत्ति (RF) कहते हैं। रेडियो तरंगें, रेडियो आवृत्ति की तरंगे ही होतीं हैं। रेडियो आवृत्ति के कम्पन - यांत्रिक कम्पन और वैद्युत कम्पन दोनों हो सकते हैं किन्तु प्रायः रेडियो आवृत्ति से आशय विद्युत कम्पन से ही होता है न कि यांत्रिक कम्पन से।

रेडियो आवृत्ति के विशेष गुण[संपादित करें]

रेडियो आवृत्ति पर कम्पन करने वाली विद्युत धारा के कुछ विशेष गुण होते हैं जो दिष्ट धारा या कम आवृत्ति की प्रत्यावर्ती धारा में नहीं पायी जाती।

  • (१) किसी चालक में मौजूद आर एफ धारा में निहित ऊर्जा उस चालक से विद्युतचुम्बकीय तरंग के रूप में विकिरित होकर अंतरिक्ष (स्पेस) जा सकती है। यही गुण रेडियो प्रौद्योगिकी का मूल आधार है।
  • (२) रेडियो आवृत्ति की धारा विद्युत चालकों में गहराई तक नहीं घुस पाती बल्कि उन चालकों के बाहरी सतह (स्किन/चर्म) तक ही सीमित रहते हुए प्रवाहित होती है। इस परिघटना को उपरिस्तर प्रभाव या 'स्किन इफेक्ट' (skin effect) कहते हैं।
  • (३) आर एफ धाराएँ आसानी से वायु का आयनीकरण कर सकतीं हैं और इस प्रकार वायु से होकर एक सुचालक मार्ग बना सकतीं हैं। आर एफ के इसी गुण का उपयोग उच्च आवृत्ति वाली विद्युत आर्क वेल्डिंग उपकरणों में किया जाता है। इनमें प्रयुक्त धारा की आवृत्ति ५०/६० हर्ट्ज की तुलना में बहुत अधिक होता है।

उपयोग[संपादित करें]

वर्गीकरण[संपादित करें]

आवृत्ति तरंगदैर्घ्य नाम संक्षिप्त नाम[1]
3 – 30 Hz 105 – 104 km Extremely low frequency ELF
30 – 300 Hz 104 – 103 km Super low frequency SLF
300 – 3000 Hz 103 – 100 km Ultra low frequency ULF
3 – 30 kHz 100 – 10 km Very low frequency VLF
30 – 300 kHz 10 – 1 km Low frequency LF
300 kHz – 3 MHz 1 km – 100 m Medium frequency MF
3 – 30 MHz 100 – 10 m High frequency HF
30 – 300 MHz 10 – 1 m Very high frequency VHF
300 MHz – 3 GHz 1 m – 10 cm Ultra high frequency UHF
3 – 30 GHz 10 – 1 cm Super high frequency SHF
30 – 300 GHz 1 cm – 1 mm Extremely high frequency EHF
300 GHz - 3000 GHz 1 mm - 0.1 mm Tremendously high frequency THF

आर एफ का मापन[संपादित करें]

चूँकि रेडियो आवृत्ति के विकिरण में (बल्कि, सभी विद्युतचुम्बकीय विकिरणों में) विद्युत क्षेत्र और चुम्बकीय क्षेत्र दोनों कम्पन करते हैं (अर्थात बदलते रहते हैं), हम विद्युत क्षेत्र को वोल्ट प्रति मीटर (V/m) द्वारा तथा चुम्बकीय क्षेत्र को अम्पीयर प्रति मीटर (A/m) द्वारा अभिव्यक्त कर सकते हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Jeffrey S. Beasley; Gary M. Miller (2008). Modern Electronic Communication (9th ed.). pp. 4–5. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0132251136. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

रेडियो वर्णक्रम
अत्यधिक निम्न आवृत्ति (ELF) परम निम्न आवृत्ति (SLF) अत्यन्त निम्न आवृत्ति (ULF) अति निम्न आवृत्ति (VLF) निम्न आवृत्ति (LF) मध्यम आवृत्ति (MF) उच्चावृत्ति (HF) अत्योच्चावृत्ति (VHF) अत्यन्त उच्चावृत्ति (UHF) परम उच्चावृत्ति (SHF) अत्यधिक उच्चावृत्ति (EHF)
3 Hz 30 Hz 300 Hz 3 किलो हर्ट्ज़ 30 किलो हर्ट्ज़ 300 किलो हर्ट्ज़ 3 मैगा हर्ट्ज़ 30 मैगा हर्ट्ज़ 300 मैगा हर्ट्ज़ 3 गीगा हर्ट्ज़ 30 गीगा हर्ट्ज़
30 Hz 300 Hz 3 किलो हर्ट्ज़ 30 किलो हर्ट्ज़ 300 किलो हर्ट्ज़ 3 मैगा हर्ट्ज़ 30 मैगा हर्ट्ज़ 300 मैगा हर्ट्ज़ 3 गीगा हर्ट्ज़ 30 गीगा हर्ट्ज़ 300 गीगा हर्ट्ज़