रूस के गणतंत्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

रूस एक संघ है जो प्रशासन के लिए 83 संघीय खंडों में बांटा गया है, जिनमें से 21 गणतंत्र का रुतबा रखते हैं। गणतंत्र ऐसे इलाक़ों को बनाया जाता है जहाँ कोई ग़ैर-रूसी जाति रहती हो या जो ऐसी किसी जाति का ऐतिहासिक क्षेत्र हो। रूस के अन्दर कई दशकों और शताब्दियों से लोगों का प्रवास जारी है इसलिए यह ज़रूरी नहीं है के जिस जाति के नाम से कोई गणतंत्र बना हो वह जाति उस क्षेत्र में आधुनिक काल में भी बहुसंख्यक हो।

संवैधानिक स्थिति[संपादित करें]

गणतंत्रो को अपनी सरकारी भाषा स्वयं चुनने का अधिकार है। उनका अपना संविधान होता है। सन् 2010 तक इनके शासकों को अपने आप को "राष्ट्रपति" का ओहदा देने का अधिकार था लेकिन अब यह केवल रूस के राष्ट्रपति के लिए आरक्षित है। गणतंत्रों के मुख्य प्रशासक चुने जाते हैं और वे काफ़ी शक्तिशाली होते हैं। कभी-कभी गणतंत्रों की संसदें ऐसे नियम भी बना चुकी हैं जो केन्द्रीय सरकार के नियमों का उल्लंघन करते हैं। कुछ गणतंत्रों में अलगाववादी गुट सक्रीय हैं जो रूस की एकता तोड़कर उस से अलग होना चाहते हैं।

नक़्शा[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]