ब्रूनर मोंड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

ब्रूनर मोंड एक ब्रिटिश रासायनिक कंपनी है जो कि टाटा केमिकल्स लिमिटेड, भारत के टाटा समूह की एक सहायक कंपनी है। टाटा केमिकल्स सोडा ऐश का दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक है। ब्रूनर मोंड भी सोडियम बाईकारबोनिट, कैल्शियम क्लोराइड और संबद्ध क्षारीय रसायन का उत्पादन करती है।

कंपनी मूलतः जॉन ब्रूनर और लुडविग मोंड द्वारा १८७३ मे स्थापित की गई थी। उन्होने नॉर्थविच चेशायर में विनिंगटन वर्क्स बनाया और १८७४ में अपना पहला सोडा ऐश का उत्पादन किया।

१९११ में उन्होने साबुन और वसा निर्माता जोसेफ क्रोसफिल्ड और संस और गोसेज, ताड़ वृक्षारोपण के स्वामित्व वाली एक साबुन कंपनी का अधिग्रहण किया। कुछ साल बाद उन्होने यूनीलीवर को साबुन और रसायन कारोबार बेच दिया। १९२४ में ब्रूनर मोंड ने केन्या की मगाडी सोडा कंपनी का अधिग्रहण किया और १९२६ में ब्रूनर मोंड तीन अन्य ब्रिटिश रासायनिक कंपनियों के साथ विलय करने के लिए इंपीरियल केमिकल इंडस्ट्रीज बन गया जो दुनिया के सबसे बड़े और सबसे सफल कंपनियों में से एक बन गया। [1]

१९९८ में कंपनी नीदरलैंड में एज़को नोबेल की सोडा ऐश उत्पादन क्षमताओं का अधिग्रहण करने के बाद ब्रूनर मोंड बी.वी. की स्थापना की, जो समूह के पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी थी।

ब्रूनर मोंड टाटा केमिकल्स द्वारा २००६ में खरीदा गया था।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]