बेटा ग्रुईस तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
सारस तारामंडल जिसमें बेटा ग्रुईस 'β' द्वारा नामांकित तारा है

बेटा ग्रुईस, जिसके बायर नामांकन में भी यही नाम (β Gru या β Gruis) दर्ज है, आकाश में सारस तारामंडल का दूसरा सब से रोशन तारा है और पृथ्वी से दिखने वाले तारों में से ६०वाँ सब से रोशन तारा है। बेटा ग्रुईस हमसे १७० प्रकाश-वर्ष की दूरी पर स्थित है और पृथ्वी से इसका औसत सापेक्ष कांतिमान (यानि चमक का मैग्निट्यूड) २.१३ है। यह एक परिवर्ती तारा है और इसकी चमक २.० और २.३ मैग्निट्यूड की सीमाओं के बीच बदलती रहती है।

वर्णन[संपादित करें]

अल्फ़ा ग्रुईस एक M5 III श्रेणी का दानव तारा है।[1][2] इसकी निहित चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) सूरज की ३,८०० गुना है। इसका सतही तापमान ३,४०० कैल्विन अनुमानित किया गया है जो एक तारे के लिए काफ़ी कम है और जिस वजह से इसका रंग इतना लाल है। इस तारे के अध्ययन से यह संभव लगता है कि इसके केंद्र में नाभिकीय संलयन (न्यूक्लीयर फ्यूज़न) इंधन ख़त्म होने से ठप्प हो चुका है और यह केंद्र कार्बन और ऑक्सीजन का बना है।[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]