पोर्ट लुई

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पोर्ट लुई
किले से पश्चिम की ओर देखने पर पोर्ट लुई और पोताश्रय का एक दृश्य।

Seal
पोर्ट लुई जिला
निर्देशांक : 20°10′S 57°31′E / 20.167°S 57.517°E / -20.167; 57.517
स्थापित 1735
शहर का दर्जा 25 अगस्त 1966
शासन
 • मेयर फ्रिट्ज़ थॉमस
क्षेत्र
 • City 42.7
 • शहरी 6.3
आबादी (2003)
 • City 1,47,688
 • घनत्व 3,458.73
समय मण्डल MUT (यूटीसी +4)

पोर्ट लुई मॉरीशस, की राजधानी है। हिन्द महासागर के तट पर स्थित यह मॉरीशस का सबसे बड़ा शहर और प्रमुख बंदरगाह है। यह यहाँ के पोर्ट लुई जिले मे स्थित है। २००३ की जनगणना के मुताबिक इसकी जनसंख्या 147688 है। इसकी स्‍थापना फ्रैंच गवर्नर माहे डी लेबरडोनेयर ने 1735 में की थी। मुख्‍य चौराहे से थोडी दूरी पर प्‍लेस डी आर्म्‍स में फ्रैंच शासन के समय की कुछ पुरानी इमारतें हैं। इसमें गवर्नर हाउस और म्‍यूनिसिपल थिएटर भी शामिल हैं जिनका निर्माण 18वीं शताब्‍दी में किया गया था। यहां पर दो चर्च और एक मस्जिद है। पोर्ट लुइस में सुप्रीम कोर्ट और नेशनल हिस्‍ट्री म्‍यूजियम भी है। इसके अलावा यहां पर मास्‍क संग्रहालय भी है। इस संग्रहालय में अफ्रीका, अमेरिका, एशिया-ओशियाना क्षेत्र में रहने वाली जनजातियों से संबंधित मास्‍क प्रदर्शित किए गए हैं।

अन्य आकर्षण[संपादित करें]

ब्‍लैक रिवर जॉर्ज[संपादित करें]

6574 हैक्‍टेयर में फैले इस पार्क का निर्माण 1994 में मॉरिशस के जंगलों को बचाने के उद्देश से किया गया था। यह पार्क सैलानियों को खूबसूरत प्राकृतिक नजारे और अदभूत पौधे व पक्षियों को करीब से देखने का मौका देता है। चसेकेओस या क्‍यूरपाइप से ला मैरी और मारे ऑक्‍स वेकेओस के रास्‍ते यहां आसानी से पहुंचा जा सकता है। ली पेट्रिन में पर्यटन सुचना केंद्र बनाया गया है जहां पर पिकनिक की सुविधाएं भी मुहैया कराई जाती हैं। इस राष्‍ट्रीय उद्यान में पैदल चलने के लिए रास्‍ते बनाए गए हैं जिनमें से एक रास्‍ता इस द्वीप की सबसे ऊंची चोटी ब्‍लैक रिवर पीक तक जाता है।

पैंपलमाउसिस गार्डन[संपादित करें]

इस उद्यान की स्‍थापना 300 साल पहले फ्रेंच गवर्नर ने की थी। यहां अनेक दुर्लभ प्रजाति के पौधे देखे जा सकते हैं। इनमें विशाल विक्‍टोरिया लिली भी शामिल है। साम्राज्‍यवादी शासन के दौरान इस उद्यान में बागवानी से संबंधित रिसर्च की जाती थीं। पोर्ट लुइस से यहां के लिए नियमित रूप से बसें चलती हैं।

ग्रैंड बे[संपादित करें]

यह मॉरिशस का प्रमुख पर्यटक स्‍थल है। यह मॉरिशस के उत्‍तर पश्चिमी तट पर स्थित है। यह बहुत ही खूबसूरत जगह है जहां दिन-रात रौनक रहती है। यहां का मुख्‍य आकर्षण यहां का समुद्र और उसके किनारे की सफेद रेत है जो इसे पर्यटकों के बीच लोकप्रिय बनाती हैं। ग्रैंड बे में स्‍कूबा डाइविंग, स्‍नोर्कलिंग जैसे वॉटर स्‍पोर्ट्स का आनंद भी उठाया जा सकता है। ग्रैंड बे अपने यहां की मार्किट के लिए भी जाना जाता है। इस बाजार का फैशन और सुविधाएं सैलानियों को पसंद आती हैं। इस मार्किट का मुख्‍य आकर्षण यहां मिलने वाला हस्‍तशिल्‍प का सामान है।

कसेला पक्षी उद्यान[संपादित करें]

कसेला पक्षी उद्यान मॉरिशस के रिवेयर नोयस जिले में स्थित है। 25 एकड़ में फैला यह उद्यान रैंपर्ट माउंटेन के किनारे बसा है। इस पार्क में अफ्रीका, एशिया, ऑस्‍ट्रेलिया से लाए गए पक्षियों की करीब 140 प्रजातियां रखी गई हैं। इसमें लंबी गर्दन वाला गुलाबी कबूतर भी शामिल है जो लुप्‍त होने की कगार पर है। इस उद्यान में एक छोटा सा चिडि़याघर भी है जहां बाघ, बंदर, हिरन देखे जा सकते हैं। यहां पर एक झील भी है। यह उद्यान सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुला रहता है। पार्क में रेस्‍टोरेंट भी है। जहां आप खाने पीने का मजा ले सकते है।

फोक म्‍यूजियम ऑफ इंडियन माइग्रेशन[संपादित करें]

इस संग्रहालय की स्‍थापना 1991 में मॉरिशस में रहने वाले भारतीयों की बौद्धिक विरासत को सुरक्षित रखने के उद्देश्‍य से की गई थी। इस संग्रहालय में भारतीयों के मॉरिशस में बसने से संबंधित अभिलेख रखे गए हैं। यह संग्रहालय मॉरिशस म्‍यूजियम काउंसिल एक्‍ट 2000 के अंतर्गत आता है। इसका संचालन महात्‍मा गांधी संस्‍थान द्वारा किया जाता है। यह संग्रहालय सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक खुला रहता है और रविवार व राष्‍ट्रीय अवकाश के दिन बंद रहता है।

संदर्भ[संपादित करें]

  • Malcolm de Chazal, Petrusmok, The Standard Printing Est., 1951, La Table Ovale, 1979.
  • Marie-Thérèse Humbert , La montagne des signaux, Paris : Stock, 1994
  • Khal Torabully, Kot sa parol la - Rôde parole, poésie en créole et français, éditions Le Printemps, 1996, Maurice.

बाहरी सूत्र[संपादित करें]