पदार्थ की मात्रा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

किसी नमूने या प्रणाली के पदार्थ की मात्रा, n, एक भौतिक मात्रा है, जो कि उसमें स्थित मौलिक अस्तित्व कणों की संख्य के अनुपात में है. "मौलिक अस्तित्व कण" अणु, परमाणु, आयन, इलेक्ट्रान या कोई और कण भी हो सकते हैं, जिसका चुनाव सन्दर्भ आधारित है, और नियत होना चाहिये. पदार्थ की मत्रा कभी कभी रासायनिक मात्रा या गलत रूप में मोल की संख्या भी कहा जाता है।[1]

पदार्थ की मात्रा के लिये SI इकाई है मोल। इसकी परिभाषा है:

पदार्थ की वह मात्रा, जिसमें बराबर संख्या में मौलिक अस्तित्व कण हों, जितने कि 12 g कार्बन-12 में होते हैं। वह संख्या है एवोगाद्रो संख्या, NA, जिसका मान है[2] of 6.02214179(30)×१०23 mol−1

विवरण[संपादित करें]

कितना पदार्थ है, यह बताने हेतु भार या आयतन के बजाय पदार्थ की मात्रा, क्यों प्रयोग करें? यह इसलिये है, क्योंकि रासायनिक क्यियाओं में अणु से अणु, परमाणु से परमाणु, आयन से आयन क्रिया करते हैं. क्योंकि भिन्न अणु और परमाणुओं का भिन्न भार होता है, 100 ग्राम के इन पदार्थों में सभी में समान मात्रा में पदार्थ नहीं होता है. उदाहरणार्थ, 100 ग्राम आक्सीजन में 100 ग्राम कार्बन से कम अणु होते हैं.

देखें: स्टॉय्कियोमेट्री

शब्दावली[संपादित करें]

Wiktionary-logo-en.png
मात्रा को विक्षनरी,
एक मुक्त शब्दकोष में देखें।

किसी पदार्थ की मात्रा बताते समय, सन्दर्भित अस्तित्व कण बताना आवश्यक है (जब तक कि संशय ना होना निश्चित हो). एक मोल क्लोरीन का अर्थ क्लोरीन परमाणु (जैसे कि 58.44 g sodium chloride) भी हो सकता है, और क्लोरिन अणु (जैसे 22.711 dm3 क्लोरीन गैस में STP पर) भी हो सकता है. संशय को हटाने की सरलतम विधि है कि "पदार्थ" शब्द के स्थान पर अस्तित्व कणों के नाम दिये जायें, या एम्पीयरीकल सूत्र बताया जाये. उदाहरणार्थ:

क्लोरोफ़ार्म की मात्रा, CHCl3
सोडियम की मात्रा, Na
हाइड्रोजन (परमाणुओं) की मात्रा, H
n(C2H4)

यह "मात्रा" शब्द की तकणीकी परिभाषा कही जा सकती है. इसका अनुप्रयोग कई व्युत्पन्न मात्राओं में देखा गया है.

व्युत्पन्न मात्रायें[संपादित करें]

When amount of substance enters into a derived quantity, it is usually as the denominator: such quantities are known as "molar quantities".[3] For example, the quantity which describes the volume occupied by a given amount of substance is called the molar volume, while the quantity which describes the mass of a given amount of substance is the molar mass. Molar quantities are sometimes denoted by a subscript Latin "m" in the symbol,[3] e.g. Cp,m, molar heat capacity at constant pressure: the subscript may be omitted if there is no risk of ambiguity, as is often the case in pure chemistry.

The main derived quantity in which amount of substance enters into the numerator is amount of substance concentration, c. This name is often abbreviated to "amount concentration",[4] except in clinical chemistry where "substance concentration" is the preferred term[5] (to avoid any possible ambiguity with mass concentration). The name "molar concentration" is incorrect,[6] if commonly used.

देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. To use "number of moles" to refer to amount of substance is no more correct than to use "number of seconds" to refer to time. The amount of substance is the same whatever unit is used to measure it.
  2. en:International Council of Science en:Committee on Data for Science and Technology (2007). 2006 CODATA recommended values.
  3. साँचा:GreenBookRef
  4. IUPAC, Compendium of Chemical Terminology, 2nd ed. (the "Gold Book") (1997). Online corrected version:  (2006–) "amount-of-substance concentration".
  5. International Union of Pure and Applied Chemistry (1996). "Glossary of Terms in Quantities and Units in Clinical Chemistry." Pure Appl. Chem. 68:957–1000.
  6. "Molar concentration" should refer to a concentration per mole, i.e. an amount fraction. The use of "[[molar (unit)|]]" as a unit, equal to 1 mol/dm3, symbol M, is frequent, but not (as of May 2007) completely condoned by IUPAC: See साँचा:GreenBookRef