नागपट्टनम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
नागपट्टनम
—  शहर  —
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य तमिल नाडु
ज़िला नागपट्टनम
जनसंख्या 92,525 (2001 के अनुसार )

Erioll world.svgनिर्देशांक: 10°46′N 79°50′E / 10.77°N 79.83°E / 10.77; 79.83 नागपट्टनम (तमिल: நாகப்பட்டினம் (nākappaṭṭinam)बंगाल की खाड़ी के तट पर बसा एक शहर है, जो अपने धार्मिक धरोहरों के लिए पूरे राज्य में प्रसिद्ध है। यह नागपट्टनम जिला मुख्यालय है। यह शहर नागानाडु, चोलाकुला, वल्लीपट्टिनम शिव राजधानी जैसे नामों से भी जाना जाता है। प्रारंभिक लेखकों और पुर्तगालियों ने इसे सिटी ऑफ कोरोमंडल नाम से संबोधित किया था। तमिलनाडु की राजधानी चैन्नई से 320 किमी. दूर स्थित इस जिले का गठन 1991 में तंजावुर जिले को काटकर किया गया था। यहां के बंदरगाह भारत के सबसे समृद्ध बंदरगाहों मे गिने जाते हैं। हिन्दू, मुस्लिम और ईसाई तीनों धर्म के सैलानी यहां तीर्थाटन करने के लिए नियमित रूप से आते रहते हैं।

प्रमुख आकर्षण[संपादित करें]

वेलनकन्नी[संपादित करें]

इस छोटे से नगर को ईसाई धर्म का प्रमुख तीर्थस्थल माना जाता है। यहां का अरोकिया माधा चर्च या वेलनकन्नी बासीलिका मुख्य आकर्षण है। सभी धर्म के लोग इस चर्च में प्रार्थना करने बड़ी संख्या में आते हैं। नागापट्टिन से 12 किमी. दक्षिण में कोरोमंडल तट पर स्थित यह चर्च दक्षिण एशिया में ईसाइयों का मक्का माना जाता है। इस नगर के महत्व को देखने हुए वेटिकन सिटी के पोप ने इसे पवित्र शहर घोषित किया था।

नागोर दरगाह[संपादित करें]

नागोर में मीरन साहब अब्दुल कादिर हमीद बादशाह की दरगाह मुस्लिम संप्रदाय का लोकप्रिय तीर्थस्थल है। नागापट्टिनम से 4 किमी. उत्तर में स्थित इस दरगाह में अन्य धर्म के अनुयायी भी बड़ी संख्या में आते हैं। धार्मिक सदभाव के प्रतीक इस दरगाह में 2004 में आए सूनामी के दौरान हजारों लोगों ने शरण लिया था। दरगाह के चार आकर्षण प्रवेश द्वार हैं। पश्चिमी द्वार के सम्मुख 131 फीट की ऊंची सुंदर मीनार है, जिसे पेरिया मीनार कहा जाता है।

तरंगमबाडी[संपादित करें]

कराईकल के उत्तर में स्थित तरंगमबाडी 1620 से 1845 के दौरान एक डेनिश कॉलोनी थी। तमिल भाषा में तरंगमबाडी का तात्पर्य होता है लहरों के गीत गाने का स्थान। 1620 में तंजौर के शासक की अनुमति के बाद रघुनाथ नायक ने यहां बीच के पूर्व में एक शानदार किला बनवाया। यहां बीच के निकट ही गवर्नर का महल बना हुआ है। तरंगमबाडी नागापट्टिनम से 35 किमी. की दूर स्थित है जहां डेनिस वास्तुकला के अनेक नमूने देखे जा सकते हैं।

कूथानूर[संपादित करें]

नागापट्टिनम से 45 किमी. दूर स्थित कूथानूर का संबंध महान तमिल कवि ओट्टाकूथर से है। संत कवि को समर्पित यहां एक भव्य मंदिर बना हुआ है। मंदिर परिसर में कला और ज्ञान की देवी सरस्वती का एक पृथक मंदिर है।

कोडिक्कराई[संपादित करें]

कोडिक्कराई नागापट्टिनम नगर से 68 किमी. की दूरी पर है। बैकवाटर और वन्यजीव अभ्यारण्य के लिए यह स्थान चर्चित है। 312.7 हेक्टेयर में फैले इस अभ्यारण्य में ब्लू बक, स्पोटेड डीयर, वाइल्ड बोर, सेमी वाइल्ड पोन्नी, बोन्नेट मकाक, आदि के अलावा अनेक प्रकार के जलपक्षियों को देखा जा सकता है। यह शांत स्थान हनीमून मनाने वाले नवदंपत्तियों को बड़ी संख्या में आकर्षित करता है। प्रकृति को अपने विशुद्ध रूप में यहां करीब से देखा जा सकता है।

मन्नारकुडी[संपादित करें]

नागापट्टिनम से 56 किमी. दूर स्थित मन्नारकुडी वैष्णव मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है। इन मंदिरों को राजगोपालस्वामी मंदिर के नाम से जाना जाता है।

सिक्कल[संपादित करें]

सिक्कल सिंगारवेलन मंदिर के लिए चर्चित है। यह शिव का एक प्राचीन मंदिर है जहां भगवान मुरूगन सिंगारवेलन के रूप में पूजे जाते हैं। शैव मत के अनेक संतों जैसे अप्पर, तिरूगनाना समबंदर और मानिक सागर ने यहां अनेक भक्तिमय गीत गाए हैं। मंदिर के स्तंभों में बेहद खूबसूरत नक्कासी की गई है।

वेदरनयम[संपादित करें]

नागापट्टिनम नगर से वेदरनयम की दूरी 58 किमी. है। यह स्थान वेदरनेश्वर मंदिर के लिए लोकप्रिय है, जिसे सप्त विदांग थल्लम में शुमार किया जाता है। ऐतिहासिक दृष्टि से भी यह स्थान काफी महत्वपूर्ण है। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान यह स्थान दक्षिण भारत में नमक सत्याग्रह का प्रमुख केन्द्र था।

आवागमन[संपादित करें]

वायु मार्ग

नागापट्टिनम का निकटतम एयरपोर्ट तिरूचिरापल्ली विमानक्षेत्र है, जो शहर से लगभग 147 किमी. दूर है। देश के अनेक शहरों से यह एयरपोर्ट जुड़ा हुआ है।

रेल मार्ग

नागापट्टिनम का निकटतम रेलवे स्टेशन दक्षिण भारत के अनेक शहरों से जुड़ा हुआ है। चैन्नई, तिरूचिरापल्ली, तंजावुर और कोल्लम आदि शहरों से यहां के लिए नियमित ट्रेनें हैं।

सड़क मार्ग

नागापट्टिनम दक्षिण भारत के अनेक शहरों से सड़क मार्ग के माध्यम से जुड़ा हुआ है। चैन्नई, मदुरै, त्रिची, कन्याकुमारी, तंजावुर, पांडिचेरी आदि शहरों से यहां के लिए नियमित बस सेवाएं उपलब्ध हैं

नागपट्टनम जिला

References[संपादित करें]

बाहरी सूत्र[संपादित करें]

यह भी देखें[संपादित करें]

* [[Chudamani Vihara]] * [[Battle of Negapatam (1758)]] * [[Battle of Negapatam (1782)]] * [[Nagapattinam (Lok Sabha constituency)]] साँचा:पुर्तगाली सुदूर साम्राज्य