केम्मनगुंडी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Kemmannugundi
—  village  —
Foggy day at Kemmangundi
Foggy day at Kemmangundi
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य Karnataka
ज़िला Chikkamagaluru
क्षेत्रफल
ऊँचाई (AMSL)

• 1,434 मीटर (4,705 फी॰)

Erioll world.svgनिर्देशांक: 13°32′49″N 75°45′29″E / 13.547°N 75.758°E / 13.547; 75.758

केम्मनगुंडी (कन्नड़: ಕೆಮ್ಮಣ್ಣುಗುಂಡಿ), भारत के कर्नाटक राज्य के चिक्कामगलुरु जिले के तरिकेर तालुक का एक पहाड़ी स्थल है. यह समुद्र तल से 1434m ऊपर की ऊंचाई पर स्थित है. कृष्णराज वोदेयर चतुर्थ यहां गर्मियों के मौसम में आते थे और राजा के सम्मान में इसे श्री कृष्णराजेन्द्र हिल स्टेशन के नाम से भी जाना जाता है. बाबा बुदन गिरी रेंज से घिरे और रजत-वर्णी जलप्रपातों, पहाड़ी नदियों, और रसीले वनस्पति से परिपूर्ण केम्मनगुंडी के सुन्दर-सुन्दर सजे-धजे बगीचों और अद्भुत पर्वतों और घाटियों का दृश्य आखों को बहुत शुकून देता है. राज भवन से देखनेलाय सूर्यास्त का दृश्य किसी भी फोटोग्राफर की प्रसन्नता का कारण बन सकता है. दिल में साहसिक सामग्री लिए हुए केम्मनगुंडी कई चोटियों को मापने और जटिल जंगल मार्गों का पता लगाने का अवसर प्रदान करता है.

नाम की उत्पत्ति[संपादित करें]

केम्मन्नूगुंडी (या केम्मन्नगुंडी) तीन कन्नड़ शब्दों से अपना नाम प्राप्त करता है - केम्पु (लाल), मन्नू (मिट्टी) और गुंडी (पीट) और जिसका मतलब लाल मिट्टी वाला एक स्थान है.

परिवहन[संपादित करें]

सड़क[संपादित करें]

केम्मन्नूगुंडी, सड़क मार्ग से चिक्कामगलुरु से लगभग 53 किमी और लिंगादहाली 20 किमी दूर है. नज़दीकी राष्ट्रीय राजमार्ग NH-206 या NH-48 बैंगलोर से जोड़ता है. वहां पहुंचने का एक दूसरा रास्ता भी है जो मुल्लायनागिरी से होकर जाता है जो एक सुरम्य पथ है.

रेल[संपादित करें]

निकटतम रेलवे स्टेशन 20-30 किमी दूर तरिकेर में है.

वायु[संपादित करें]

निकटतम हवाई अड्डे मंगलोर (150 किमी) और बैंगलोर में हैं.

इतिहास[संपादित करें]

केम्मन्नूगुंडी की स्थापना कृष्णराज वोदेयर चतुर्थ के गर्मियों के पड़ाव के रूप में की गई थी. उन्होंने बाद में इस रिसॉर्ट को कर्नाटक की सरकार को दान कर दिया. अब कर्नाटक का बागवानी विभाग इस रिसॉर्ट और इसके आस पास के क्षेत्रों का विकास और अनुरक्षण करता है.

निशानियां[संपादित करें]

केम्मनगुंडी के निकट एक लोकप्रिय पदयात्रा शिखर.

राज भवन[संपादित करें]

राज भवन केम्मन्नूगुंडी में स्थित एक अतिथि गृह है और यह आस-पास की पहाड़ियों का एक देखने लायक दृश्य प्रस्तुत करता है. राज भवन से सूर्यास्त का दृश्य बड़ा ही मनभावन है.

Z स्थल[संपादित करें]

Z स्थल केम्मनगुंडी का एक सुविधाजनक स्थल है और राज भवन से यहां तक लगभग 45 मिनट की एक अत्यधिक कठिन यात्रा द्वारा पहुंच जा सकता है और यह उन लोगों का दूसरा पसंदीदा स्थान है जो एक शानदार सूर्योदय देखना चाहते हैं. चूंकि यह यात्रा पैदल ही करनी होती है इसलिए फिसलन भड़ी सड़कों और सांपों से सावधान रहें और शांति फ़ॉल्स नर केम्मनगुंडी का भी दर्शन करें

गुलाब बाग[संपादित करें]

गुलाब बाग, जैसा कि नाम से ही पता चलता है कि यह गुलाबों का एक बगीचा है जिसका अनुरक्षण बागवानी विभाग द्वारा किया जाता है. यहां विभिन्न किस्मों के गुलाबों की खेती की जाती है.

हेब्बे फॉल्स[संपादित करें]

राज भवन से लगभग 8 किमी की एक अधोंमुख-पहाड़ी यात्रा व्यक्ति को हेब्बे फॉल्स तक ले जाता है जहां 168 मीटर की ऊंचाई से गिरने वाली पानी की धारा दो हिस्सों में बंटकर डोड्डा हेब्बे (वृहद् जलप्रपात) और चिक्का हेब्बे (लघु जलप्रपात) का निर्माण करती है. एक विशेष स्थल से हेब्बे फॉल्स तक जाने के लिए जीप उपलब्ध हैं और वे लगभग 700/- से 1200/- तक (व्यक्तियों की संख्या के आधार पर ऊपर जाने और नीचे आने के लिए) का किराया वसूलते हैं. यदि पर्याप्त समय हो तो पैदल यात्रा कर सकते हैं.

कलाथी फ़ॉल्स[संपादित करें]

कलाथी फॉल्स, केम्मनगुंडी से लगभग 10 किमी दूर है. केम्मनगुंडी से तरिकेर के रास्ते में जो मोड़ पड़ता है वह कलाथी फॉल्स को जाता है. इसे कलाथीगिरी फॉल्स और कलाहस्ती फॉल्स के नाम से भी जाना जाता है. 122 मीटर की उंचाई से गिरने वाले यहां के जलप्रपात और मंदिर, विजयनगर साम्राज्य के समय की देन हैं. एक स्थानीय किंवदंती के अनुसार यह जगह हिंदू संत, अगस्त्य से संबंधित है.

मुल्लायनागिरी[संपादित करें]

मुल्लायनागिरी, कर्नाटक का उच्चतम स्थल है. आप केम्मन्नूगुंडी से बाबा बुदनगिरी हिल्स से होते हुए चिक्कामंगलोर की ओर यात्रा कर सकते हैं. चिक्कामंगलोर पहुंचने से पहले ही इस शानदार पहाड़ी चोटी की तरफ जाने वाला एक मोड़ है. मोड़ से 8 किमी की दूरी तक ड्राइव करना पड़ता है. सड़क सीधे ऊपर की तरफ ले जाती हैं. शीर्ष पर एक शिव मंदिर है.

संदर्भ[संपादित करें]

साँचा:Chikkamagaluru topics

शकटपुरम् शकटपुरम् चिकमगलोर जिले के कोप्पा तालुक के भंदिगड़ी गांव में अवस्थित आदि शंकराचार्य का कर्नाटक में सबसे बड़ा मंदिर है.