कास्पी लोग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

कास्पी (फ़ारसी: کاسپی ها, अंग्रेज़ी: Caspians, यूनानी: Κάσπιοι) एक प्राचीन मानव जाति थी जो कैस्पियन सागर के दक्षिणी और दक्षिणपश्चिमी किनारों पर बसा करती थी। प्राचीन यूनानी इतिहासकार हेरोडोटस​ ने उन्हें ईरान के सम्राट दरयुश की एक सात्रापी बताया था।[1] कास्पी लोग मूल-रूप से हिन्द-यूरोपीय भाषाएँ नहीं बोलते थे हालांकि फ़ारसी व अन्य ईरानी भाषाएँ इसी परिवार की रही हैं। कुछ इतिहासकारों के अनुसार यह वही समुदाय है जिन्हें अन्य स्रोतों में 'कैसियाई लोग' (Kassites) कहा गया है और जिनकी भाषा किसी भी ज्ञात भाषा-परिवार की नहीं थी।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Herodotus, iii.92 (with the Pausicae) and 93 (with the Sacae).
  2. Herzfeld, The Persian Empire, (Wiesbaden) 1968:195-99, noted by Rüdiger.