ऍयाफ़्यात्लायोएकुत्ल्ल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
20 मार्च 2010 को ऍयाफ़्यात्लायोएकुत्ल्ल ज्वालामुखीय मंडल में फटता हुआ एक मुख

ऍयाफ़्यात्लायोएकुत्ल्ल (आइस्लैण्डी: Eyjafjallajökull) आइसलैंड में एक ज्वालामुखी और उस पर स्थित एक बर्फ़ की टोपी है, जिस से कुछ हिमानियाँ (ग्लेशियर) भी चलते हैं। इस ज्वालामुखी का मुख 1,666 मीटर (5,466 फ़ुट) की ऊंचाई पर है। ऍयाफ़्यात्लायोएकुत्ल्ल अक्सर फटता रहता है। सन् 2010 में इसके फटने से पश्चिमोत्तर यूरोप के वायुमंडल में इसकी राख के बादल फैल गए थे जिस से कई हफ़्तों तक हवाई जहाज़ों का यातायात ठप्प रहा।[1]

चित्रघर[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Anatomy of a Volcanic Eruption, Amie Jane Leavitt, Capstone Press, 2011, ISBN 978-1-4296-6022-8, ... Small earthquakes shook Iceland's southern coast for four months. Then on March 21, 2010, lava began to flow from Eyjafjallajökull volcano. By April 14, another vent opened in the volcano. Magma inside Eyjafjallajökull pushed its way through the dense rock and thick ice cap. Lava began to pour out ... Airports all over Europe closed ...