सूक्ष्मजैविक पारिस्थितिकी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सूक्ष्मजैविक पारिस्थितिकी सूक्ष्मजैविकी की एक शाखा है जिसमें सूक्ष्मजीवों के आपसी सबंधों एवं उनके वातावरण से सबंधों का अध्ययन किया जाता है। इसमें मुख्यतः जीवाणु, आर्किया एवं यूबैक्टरीया के साथ-साथ विषाणु का भी अध्ययन किया जाता है। सूक्ष्मजीव प्रायः सर्वत्र पाये जाते है ये पृथ्वी पर मिट्टी में, अम्लीय गर्म जल-धाराओं में, नाभिकीय पदार्थों में[1], जल में, भू-पपड़ी में, यहां तक की कार्बनिक पदार्थों में तथा पौधौं एवं जन्तुओं के शरीर के भीतर भी पाये जाते हैं

संदर्भ[संपादित करें]