सिविल प्रक्रिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सिविल मुकदमों (अर्थात् दीवानी) पर निर्णय देते समय न्यायालयों द्वारा पालन की जाने वाली आवश्यक प्रक्रिया एवं मानकों को सिविल प्रक्रिया (Civil procedure) कहते हैं। आपराधिक मुकदमों में दूसरी प्रक्रिया लागू होती है जिसे दण्ड प्रक्रिया कहते हैं। सिविल प्रक्रिया में दिए गए नियमों में स्पष्ट उल्लेख होता है कि

  • सिविल मुकदमों को कैसे आरम्भ किया जा सकता है,
  • केस की सुनवाई किस-किस प्रकार से होगी,
  • कथन (बयान) कैसे लिए जाएंगे,
  • किस-किस प्रकार के आवेदन किए जा सकते हैं,
  • किस प्रकार के आदेश दिए जा सकते हैं,
  • निक्षेपण (depositions) का समय एवं तरीका, आदि

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]