समनाम शब्द

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

ऐसे शब्द जिनके वर्तनी और उच्चारण समान होते हैं किन्तु उनके भिन्न-भिन्न अर्थ होते हैं, समनाम --- (homonym) कहलाते हैं।

हिन्दी के कुछ समनाम निम्न प्रकार हैं-

अक्षर --- परमात्मा, अविनाशी, वर्ण, आत्मा, आकाश, जल
अर्थ --- धन, ऐश्वर्य, हेतु, प्रयोजन, काम, इंद्रियों के विषय
कर्ण --- कान, कुंती का पुत्र, त्रिभुज मे समकोण के सामने की भुजा
अज --- बकरा, ब्रह्मा, अग्नि, सुर्य का रथ, अजन्मा, कामदेव, चंद्रमा, जीवात्मा
कल --- बीता दिन, आने वाला दिन, मशीन, चैन
काल --- मृत्यु, समय, अवसर, यम, शनि, शिव, भाग्य
काम --- कार्य, धंधा, कामदेव, इच्छा, प्रेम, शुक्र
अंक --- गोद, चिह्न, गिनती, नाटक का एक भाग
कर --- हाथ, टैक्स, किरण, हाथी का सुँड, ओला
पत्र --- चिठ्ठी, पत्ता, समाचार पत्र, पृष्ठ, पंख, वाहन, चंदन
हरि --- भगवान, सर्प, बंदर, वायु, सूर्य, चंद्रमा, सिंह, अग्नि, हंस
गुण --- कौशल, स्वभाव, शील, लाभ, प्रभाव, धागा
दल --- समूह, पक्ष, भाग, सेना, पत्ता, अंश, म्यान
मधु --- शहद, पुष्परस, चैत्र मास, मद्य
चरण --- पाँव, श्लोक का एक पद, स्तंभ, गोत्र, आश्रय, चतुर्थांश
गौ --- पृथ्वी, वाणी, गाय, किरण, आँख, सरस्वती, धरती, माता
घट --- कम, घडा, देह, पिंड, हृदय, किनारा
राग --- प्रेम, संगीत की ध्वनि, आकर्षण, कष्ट, ईर्ष्या
राशि --- समूह, मेष-कर्क आदि राशियां
तात --- पिता, भ्राता, मित्र, प्यारा, तप्त, प्रशस्ति
तीर --- बाण, तट, तीर का निशान, सीमा
द्विज --- विप्र, दाँत, पक्षी, ब्राह्मण, चंद्रमा
मान --- अभिमान, आदर, मापक, तालिका, विराम
निशा --- रात, हल्दी, स्वप्न, मुर्गा, कपूर
कनक --- सोना, धतुरा, गेहूँ, पलाश, चंपा
अधर --- होंठ, पाताल, अंतरिक्ष, चंचल, पराजित
आराम --- सुख, उद्यान, आरोग्य
पानी --- जल, कांति, मान-मर्यादा, जीवट, दंभ, मुलम्मा

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]