संरक्षित क्षेत्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पश्चिम बंगाल का जलदापारा राष्ट्रीय उद्यान एक संरक्षित क्षेत्र है

संरक्षित क्षेत्र या रक्षित क्षेत्र किसी ऐसे क्षेत्र को कहते हैं जिसकी उसके प्राकृतिक, पर्यावरणीय या सांस्कृतिक महत्व के कारण परिवर्तन या हानि से रक्षा की जा रही हो। रक्षित क्षेत्र भिन्न प्रकारों के होते हैं और उन्हें अलग-अलग स्तरों का संरक्षण दिया जाता है। कुछ समुद्री क्षेत्र भी अक्सर संरक्षित हुआ करते हैं। अक्टूबर २०१० में विश्व भर में १,६१,००० से अधिक रक्षित क्षेत्र थे[1] जिनमें दुनिया की पूरी भूमि का १०-१५% था।[2][3] इसके विपरीत समुद्र का केवल १.१७% रक्षित क्षेत्रों में सम्मिलित था जिसपर लगभग ६,८०० समुद्री रक्षित क्षेत्र विस्तृत थे।[4]

परिभाषा[संपादित करें]

अंतर्राष्ट्रीय प्रकृति संरक्षण संघ (International Union for Conservation of Nature) के अनुसार रक्षित क्षेत्र 'एक स्पष्ट रूप से परिभाषित भौगोलिक क्षेत्र होता है, जो प्रकृति और उस से सम्बंधित पर्यावरणीय सेवाओं और सांस्कृतिक मान्यताओं के दीर्घकालीन संरक्षण के लिए मान्य, समर्पित और व्यवस्थित हो'।[5] आमतौर पर इन क्षेत्रों में मानव-व्यवसायों और प्राकृतिक साधनों के उपयोग पर सीमाएँ लगी होती हैं या पूर्ण पाबंदी होती है।

अन्य भाषाओं में[संपादित करें]

'संरक्षित क्षेत्रों' को अंग्रेज़ी में 'प्रोटॅक्टिड एरियाज़​' (protected areas), रूसी में 'प्रिरोदाख़रान्नाया ज़ोना' (Природоохранная зона) और फ़ारसी में 'मन्तक़ा हिफ़ाज़तशुदा' (منطقه حفاظت‌شده) कहा जाता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]