मुख्य अनुक्रम पूर्वी तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मुख्य अनुक्रम पूर्वी तारा ऐसे तारे को कहा जाता है जो अभी मुख्य अनुक्रम तारे की अवस्था में न पहुँचा हो। इन तारों में नाभिकीय संलयन (न्यूक्लियर फ्यूज़न) गुरुत्वाकर्षण के दबाव से चलता है, जबकि मुख्य अनुक्रम तारों में अधिक तापमान इस प्रक्रिया को चलाता है। मुख्य अनुक्रम पूर्वी तारों का व्यास (डायामीटर) मुख्य अनुक्रम तारों से अधिक होता है इसलिए इनका घनत्व कम होता है। वैज्ञानिकों का मानना है तारे जीवन के इस पड़ाव में अपने पूरे जीवन का 1% अंश ही गुजारते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]