भगवद्गोमण्डल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

भगवद्गोमण्डल (Gujarati: ભગવદ્ગોમન્ડલ) गुजराती भाषा में एक विश्वकोश तथा गुजराती-से-गुजराती शब्दकोश है। इसकी परिकल्पना गोंडल के राजा भगवतसिंह ने सन् १९२८ में की थी। यह विश्वकोश ९ भागों में ९५०० पन्नों वाला विश्वकोश है। इसमें कोई २८१,३७७ शब्दों के अर्थ एवं उनकी व्याख्या दी हुई है।

अन्तरजालीय संस्करण[संपादित करें]

भगवद्गोमण्डल का पहला ऑनलाइन संस्करण अगस्त २००८ में जारी हुआ। इसे प्रवीण प्रकाशन ने जारी किया।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]