ब्लड डायमण्ड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
सियरा लोन में ब्लड डायमंड की पैनिंग प्रक्रिया

हीरा कई रंगों में मिलता है जिनमें लाल रंग के हीरे को ब्लड डायमंड कहा जाता है। इसकी प्राप्ति के पीछे होने वाले खून-खराबे के कारण ही इसे ब्लड डायमंड यानि खूनी हीरा कहा जाता है। इन्हीं कारणों से इसे भिड़न्त यानि कन्फ्लिक्ट डायमंड या वॉर डायमंड भी कहते हैं। यह अफ्रीका में सिएरा लियोन और लाइबेरिया में सबसे ज्यादा पाए जाते हैं। ब्लड डायमंड को कन्फ्लिक्ट डायमंड कहे जाने का एक बड़ा कारण है। १९८९ से २००१ तक इसके उत्पादक सिएरा लियोन और लाइबेरिया गृह युद्ध के शिकार थे। ऐसी स्थिति में लाइबेरियन राष्ट्रपति कारलोस जी. टॉयलर ने अमूल्य ब्लड डायमंड के बदले हथियार खरीदने शुरू किए थे। इस कारण दुनिया भर में टॉयलर की आलोचना हुई।[1]

असल में, ब्लड डायमंड के खनन का काम मूल रूप से किसान और मजदूर करते थे। हीरे की तस्करी बढ़ने के कारण इन लोगों से कम वेतन पर दिन रात काम कराया जाने लगा, जिसका इन्होंने विरोध किया। इसके बाद, लाइबेरिया में कानूनी रूप से डायमंड खनन उद्योग की स्थापना हुई। १९९८ में गलोबल विटनेस नाम की एक संस्थान ने अफ्रीका में डायमंड और दंगों के बीच के संबंधों पर एक रिपोर्ट प्रस्तुत की थी। हाल में सुपर मॉडल नाओमी कैम्पबेल ब्लड डायमंड के कारण चर्चा में हैं। १९९७ में टॉयलर ने कैमबैल को ब्लड डायमंड का एक पाउच दिया था।[2] इस कारण टॉयलर का सहयोगी बताया जा रहा है। फिलहाल यह जांच के अधीन है।[1]


संदर्भ[संपादित करें]

  1. ब्लड डायमंड। हिन्दुस्तान लाइव। ११ अगस्त। भारती शाण्डिल्य
  2. ब्लड डायमंड के जाल में दुनिया की सबसे बड़ी मॉडल। बिज़्नेस भास्कर। ८ अगस्त २०१०

बाहरी सूत्र[संपादित करें]