प्रमाणन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

प्रमाणन किसी वस्तु, व्यक्ति अथवा संगठन, की कुछ विशेषताओं की पुष्टि करने से संदर्भित है. यह पुष्टिकरण अक्सर, पर हमेशा नहीं, कुछ फार्म द्वारा बाहरी समीक्षा, शिक्षा, या मूल्यांकन के आधार पर प्रदान किया जाता है.

प्रकार[संपादित करें]

आधुनिक समाज में सबसे आम प्रकार के प्रमाणन में पेशेवर प्रमाणीकरण है, जिसमे व्यक्ति को आमतौर पर किसी नौकरी या कार्य के दक्षतापूर्वक निष्पादन के लिए, अक्सर परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर ही प्रमाणित किया जाता है.

पेशागत प्रमाणन के दो सामान्य प्रकार हैं: इनमे से कुछ एक बार परीक्षा में उत्तीर्ण हो जाने पर जीवन भर के लिए मान्य हो जाते हैं. दूसरों को एक निश्चित अवधि के बाद पुनः प्रमाणित करना पड़ता है. इसके अलावा, प्रमाणन एक व्यवसाय के अंतर्गत संदर्भित स्तर या विशेषज्ञता के विशिष्ट क्षेत्र के आधार पर भिन्न हो सकते हैं. उदाहरण के लिए, आई टी इंडस्ट्री (सूचना प्राद्योगिकी उद्योग) में सॉफ्टवेयर परीक्षक, परियोजना प्रबंधक, एवं डेवलपर के लिए विभिन्न प्रमाणपत्र उपलब्ध हैं. इसी तरह, नेत्रविज्ञान में सम्बद्ध स्वास्थ्य अधिकारियों के संयुक्त आयोग द्वारा एक ही पेशे के लिए, पर जटिलता में वृद्धि के साथ तीन प्रमाणपत्र प्रदान किए जाते हैं.

प्रमाणीकरण पेशे में एक काम के अनुशीलन, अभ्यास या काम करने लिए कानूनी तौर पर योग्यता की स्थिति का उल्लेख नहीं करता है. दरअसल यह लाइसेंसीकरण (licensure है. आमतौर पर, लाइसेंसीकरण (licensure) जनता की सुरक्षा के प्रयोजनों और प्रमाणीकरण के लिए सरकारी संस्था द्वारा प्रशासित पेशेवर संघ द्वारा प्रदान किए जाते हैं. हालांकि, वे इसी अर्थ में एक ही तरह की है कि दोनों में ही एक निश्चित स्तर के ज्ञान या क्षमता के प्रदर्शन की आवश्यकता है.

आधुनिक समाज के अन्य सबसे अधिक आम प्रकार के प्रमाणन में उत्पाद प्रमाणीकरण है. यह उन प्रक्रियाओं को संदर्भित करता है जिनका उद्देश्य उत्पाद का न्यूनतम मानक निर्धारित करने के लिए है, जो गुणवत्ता आश्वासन के समान है.

संगठनात्मक प्रमाणीकरण, जैसे अर्थचेक (Earthcheck) पर्यावरण और स्थिरता प्रमाणीकरण, आमतौर पर मान्यता के रूप में मान लिए जाते हैं. इस मामले में भेदभाव प्रमाणन एजेंसियों के राष्ट्रीय आयोग (NCCA) के लिए विशेष रूप से प्रासंगिक है, जो एक ऐसा निकाय है जो प्रमाणन संगठनो को मान्यता प्रदान करता है.

अर्थचेक (Earthcheck) बेंच मार्किंग और प्रमाणन नेशनल ग्रीनहाउस गैस इन्वेंटरीज़, जलवायु परिवर्तन के लिए अंतरसरकारीय पैनल (आईपीसीसी), सतत विकास के लिए विश्व व्यापार परिषद (WBCSD), ग्रीनहाउस गैस प्रोटोकॉल और ग्रीनहाउस गैस लेखांकन के मानकीकरण के लिए अंतर्राष्ट्रीय संगठन (आईएसओ (ISO)) 14064 मानकों की श्रृंखला के दिशानिर्देश के अनुरूप है.

सॉफ्टवेयर परीक्षण में प्रमाणीकरण[संपादित करें]

सॉफ्टवेयर परीक्षण के लिए प्रमाणन परीक्षा एवं शिक्षा के आधार पर वर्गीकृत किये जा सकते हैं. परीक्षा-आधारित प्रमाणन: इसके लिए परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक होता है, जिसे स्वयं-अध्ययन से सीखा जा सकता है: जैसे कि ISTQB प्रमाणित परीक्षक या QAI के द्वारा सीएसटीई (CSTE) अथवा अमेरिकन सोसाइटी फॉर क्वालिटी सीएसक्यूई (CSQE) के द्वारा. शिक्षा-आधारित प्रमाणपत्रन प्रशिक्षक के नेतृत्व वाले सत्र में होते है, जहां प्रत्येक पाठ्यक्रम(कोर्स) को पास करना पड़ता है, जैसेकि (सॉफ्टवेयर परीक्षण के लिए अंतरराष्ट्रीय संस्थान) आइआइएसटी (IIST) के द्वारा परिचालित सी एसटीपी (CSTP) या सीएसटीएम (CSTM).

सर्टिफाईड सॉफ्टवेयर टैस्ट मैनेजर(CSTM) का प्रमाणन एसटीक्यूसी आईटी सर्विस सेंटर द्वारा प्रदान किया जाता है. अधिक जानकारी के लिए: http://www.stqc.nic.in/ India.http://en.wikipedia.org/wiki/NSDG में जाएं.

प्रमाणीकरण के प्रकार[संपादित करें]

  • पेशागत प्रमाणन
  • खाद्य प्रमाणन
  • उत्पाद प्रमाणन और प्रमाणन प्रतीक-चिह्न
  • साइबर सुरक्षा प्रमाणन
  • सार्वजनिक-कुंजी बीजलेखन (पब्लिक-की क्रिप्टोग्राफी) में डिजिटल हस्ताक्षर
  • संगीत रिकॉर्डिंग की बिक्री में प्रमाणन, जैसे कि "गोल्ड" या "प्लेटिनम" का प्रमाणन
  • फिल्म प्रमाणन, जिसे चलचित्र की रेटिंग प्रणाली के रूप में भी जाना जाता है.
  • शैक्षणिक डिग्री

यह भी देखें[संपादित करें]

  • मान्यता
  • आईएसटीक्यूबी (ISTQB) प्रमाणित परीक्षक
  • सीएसटीई (CSTE)
  • हार्डवेयर प्रमाणन
  • शर्तसापेक्ष प्रमाणन
  • प्रमाणित प्रश्न

बाहरी लिंक्स[संपादित करें]