पेण्टियम ड्यूल-कोर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Pentium Dual-Core (Intel Pentium)
123px
Produced From 2006 to 2009
Common manufacturer(s)
  • Intel
Max. CPU clock rate 1.3 GHz to 2.6 GHz
FSB speeds 533 MHz to 800 MHz
Min. feature size 65 nm to 45 nm
Instruction set MMX, SSE, SSE2, SSE3, SSSE3, x86-64
Microarchitecture Core
Cores 2
Socket(s)
Core name(s)
  • Yonah
  • Merom-2M
  • Allendale
  • Wolfdale-3M

पेन्टियम ड्यूल-कोर ब्रांड का उपयोग इंटेल के मेनस्ट्रीम x86-संरचना वाले माइक्रोप्रोसेसरों के लिए 2006 से 2009 तक किया गया था जब इसे नया नाम पेन्टियम दिया गया। प्रोसेसर या तो 32-बिट वाले योनाह (Yonah) या (बिल्कुल भिन्न माइक्रोआर्किटेक्चर वाले) 64-बिट वाले मेरॉम-2एम, एलेन्डेल और वूल्फडेल-3एम कोर पर आधारित हैं, जो मोबाइल या डेस्कटॉप कम्प्यूटर को लक्ष्य कर तैयार किये जाते हैं।

दिये हुए कालद आवृति में सुविधाओं, मूल्य एवं प्रदर्शन के अनुसार, पेन्टियम ड्यूल-कोर प्रोसेसरों को इंटेल के उत्पाद प्रकारों में सेलेरॉन के ऊपर किन्तु कोर तथा कोर 2 के नीचे रखा गया। पेन्टियम ड्यूल-कोर ओवरक्लॉकिंग के लिए भी अधिक लोकप्रिय पसंद था, क्योंकि यह कम कीमत पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन (जब ओवरक्लॉक किया गया हो) प्रदान कर सकता है।

प्रोसेसर कोर[संपादित करें]

2006 में, इंटेल ने पेन्टियम ट्रेडमार्क के बाजार से हटने के बाद सिंगल-कोर वाले कॉनरो-L पर आधारित लेकिन 1 मेबिबाइट कैश के कम-लागत वाले कोर माइक्रोआर्किटेक्चर प्रोसेसरों को संरचनात्मक उत्पाद के रूप में बाजार में पुन: लाने के योजना[1] की घोषणा की. उन नियोजित पेन्टियमों की पहचान संख्याएं परवर्ती पेन्टियम ड्यूल-कोर माइक्रोप्रोसेसरों के समान थीं, लेकिन प्रथम अंक "2" के बदले में "1" होना, उनके सिंगल-कोर की व्यावहारिकता की ओर संकेत देता था। 1 मेबिबाइट कैश वाला एक सिंगल-कोर कॉनरो-L को उतना सक्षम नहीं माना गया कि वह नियोजित पेन्टियमों का सेलेरॉनों के साथ अंतर कर सकता था, इसलिए उसका स्थान ड्यूल-कोर वाले सीपीयू (CPU) ने ले लिया और "ड्यूल-कोर" को उस श्रेणी में शामिल कर लिया। सम्पूर्ण 2009 के दौरान, इंटेल ने अपने प्रकाशनों में नाम को पेन्टियम ड्यूल-कोर से बदलकर वापस पेन्टियम कर दिया. कुछ प्रोसेसरों को दोनों नामों से बेचा गया, लेकिन हाल के E5400 से E6800 डेस्कटॉप और SU4100/T4x00 मोबाइल प्रोसेसर आधिकारिक रूप से पेन्टियम ड्यूल-कोर श्रेणी का हिस्सा नहीं थे।

इंटेल पेन्टियम प्रोसेसर वर्ग
2007 का प्रतीक चिन्ह (लोगो) 2009 का प्रतीक चिन्ह (लोगो) डेस्कटॉप लैपटॉप
कोड-नाम दिया गया कोर जारी करने की तारीख कोड-नाम दिया गया कोर जारी करने की तारीख
2006 के रूप में पेंटियम ड्यूल कोर लोगो 2009 के रूप में पेंटियम ड्यूल कोर लोगो एलेन्डेल (Allendale)
वूल्फडेल (Wolfdale)
ड्यूल (65 नैनोमीटर)
ड्यूल (45 नैनोमीटर)
जून 2007
अगस्त 2008
योनाह (Yonah)
मेरॉम (Merom)
पेनरीन (Penryn)
ड्यूल (65 नैनोमीटर)
ड्यूल (65 नैनोमीटर)
ड्यूल (45 नैनोमीटर)
जनवरी, 2007
नवंबर, 2007
दिसंबर, 2008
2008 के रूप में पेंटियम ड्यूल कोर लोगो
इंटेल पेन्टियम ड्यूल-कोर माइक्रोप्रोसेसरों की सूची

योनाह (Yonah)[संपादित करें]

इस ब्रांड का उपयोग करने वाला प्रथम प्रोसेसर 2007 के आरंभ में नोटबुक कंप्यूटर में दिखाई दिया. पेन्टियम T2060, T2080 और T2130[2] नाम वाले उन प्रोसेसरों में 32-बिट का पेन्टियम M-व्युत्पन्न योनाह कोर था, एवं वह 2 मेगाबाइट (MB) कैश के स्थान पर 1 मेगाबाइट (MB) वाले L2 कैश का प्रयोग किये जाने के अपवाद के सिवाय कोर डुओ T2050 के लगभग समान था। उन सभी तीनों में 533 मेगाहर्ट्ज का एक FSB था जो सीपीयू (CPU) को मेमोरी से जोड़ता था। इंटेल ने लैपटॉप निर्माताओं के अनुरोध पर पेन्टियम ड्यूल-कोर विकसित किया।[3]

एलेन्डेल (Allendale)[संपादित करें]

इसके बाद 3 जून, 2007 को, इंटेल ने डेस्कटॉप पेन्टियम ड्यूल-कोर ब्रांड वाले प्रोसेसरों[4] को जारी किया जिन्हें E2140 और E2160 के रूप में जाना गया।[5] बाद में सितंबर 2007 में एक E2180 मॉडल जारी किया गया। ये प्रोसेसर इंटेल 64 एक्सटेंशन का समर्थन करते हैं, जो हाल के 64-बिट वाले कोर माइक्रोआर्किटेक्चरयुक्त अलेन्डेल कोर पर आधारित हैं। वे 2 मेगाबाइट (MB) कैश के स्थान पर 1 मेगाबाइट (MB) वाले L2 कैश का प्रयोग किये जाने के अपवाद के सिवाय कोर 2 डुओ E4300 प्रोसेसर के लगभग समान थे।[2] उन दोनों में एक 800 मेगाहर्ट्ज़ का FSB था। उन्होंने इंटेल सेलेरॉन से ऊपर (कॉनरो-L सिंगल-कोर श्रृंखला) के प्रोसेसर वाले सस्ते बाजार को अपना लक्ष्य बनाया जिनकी विशेषता केवल 512 किलोबाइट वाली L2 कैश थी। ऐसे एक कदम ने पेन्टियम ब्रांड में एक परिवर्तन ला दिया और इसे मेनस्ट्रीम/प्रीमियम ब्रांड वाली अपनी पूर्व की स्थिति के बजाय सस्ती श्रेणी में हस्तांतरित कर दिया.[6] ये सीपीयू ओवरक्लॉक करने में अत्यधिक सक्षम हैं।[7]

मेरॉम-2M[संपादित करें]

एलेन्डेल प्रोसेसर के मोबाइल संस्करण मेरॉम-2M को भी 2007 में शुरू किया गया, जिसकी विशेषता 1 मेगाबाइट वाली L2 कैश किन्तु T23xx प्रोसेसरों के साथ केवल 533 MT/s (मिलियन ट्रान्स्फर प्रति सेकंड) FSB थी। बस क्लॉक को बाद में बढ़ा कर एक ही डाई से बने हुए T3xxx पेन्टियम प्रोसेसरों के लिए 667 MT/s कर दिया गया।

वूल्फडेल-3M[संपादित करें]

इंटेल द्वारा 45 नैनोमीटर वाले E5200 मॉडल को अगस्त 31, 2008 को जारी किया गया, जिसमें 65 नैनोमीटर वाले E21xx श्रृंखला में 2 मेगाबाइट की L2 कैश और 2.5 गिगाहर्ट्ज़ की कालद गति थी। E5200 मॉडल ओवरक्लॉक करने में अत्यधिक सक्षम प्रोसेसर भी है, जिसमें कुछ अत्यधिक उत्साही मॉडल द्रव नाइट्रोजन प्रशीतन का उपयोग करते हुए 6 गिगाहर्ट्ज़[8] तक की कालद गति प्राप्त कर लेते हैं। इंटेल ने इस कोर का उपयोग करते हुए E6500K मॉडल जारी किया। मॉडल में एक खुली हुई गुणक वर्द्धक की सुविधाएं हैं, लेकिन वर्तमान में उसे केवल चीन में ही बेचा जा रहा है।

पेनरीन-3M[संपादित करें]

पेनरीन कोर मेरॉम कोर एवं इंटेल के पेन्टियम ड्यूल-कोर माइक्रोप्रोसेसरों की मोबाइल श्रृंखला के 45 नैनोमीटर संस्करण का परवर्ती है। इसमें FSB को बढ़ाकर 667 मेगाहर्ट्ज से 800 मेगाहर्ट्ज कर दिया जाता है और वोल्टेज कम कर दिया जाता है। इंटेल ने प्रथम पेनरीन आधारित पेन्टियम ड्यूल-कोर, T4200 दिसंबर, 2008 में जारी किया। बाद में, पेनरीन पर आधारित मोबाइल पेन्टियम T4000, SU2000 और SU4000 प्रोसेसरों को बाजार में पेंटियम के रूप में बेचा गया।

नवीन नामकरण[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: Pentium (brand)

2010 के आरंभ में पेन्टियम ड्यूल-कोर ब्रांड बंद हो चुका है एवं इसका स्थान पेन्टियम नाम ने ले लिया है। डेस्कटॉप E6000 श्रृंखला और OEM-मात्र मोबाइल पेन्टियम SU2000 और बाद के सभी मॉडलों को हमेशा पेन्टियम कहा जाता था, लेकिन डेस्कटॉप पेन्टियम ड्यूल-कोर E2000 और E5000 श्रृंखला वाले प्रोसेसरों का नवीन नामकरण किया जाना था।

पेन्टियम D से तुलना[संपादित करें]

यद्यपि पेन्टियम नाम का उपयोग करते हुए, डेस्कटॉप पेन्टियम ड्यूल-कोर कोर माइक्रोआर्किटेक्चर पर आधारित है, जिसे अपने विशेष लक्षण की पेन्टियम D से तुलना करने के समय स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है, जो सर्वप्रथम पेन्टियम 4 में व्यवहार किये गए नेट बर्स्ट माइक्रोआर्किटेक्चर पर आधारित है। 2 या 4 मेबिबाइट (Mib) के साझा-L2-कैश समर्थित कोर 2 डुओ, डेस्कटॉप पेन्टियम ड्यूल-कोर में 1 या 2 मेबिबाइट का साझा L2 कैश होता है। इसके विपरीत, पेन्टियम D प्रोसेसरों में या तो 2 या 4 मेबिबाइट (Mib) का गैर साझा L2 कैश होता है। इसके अतिरिक्त, सबसे तीव्र गति वाले कालद पेन्टियम D में 3.73 गिगाहर्ट्ज़ (GHz) की एक कारखाना सीमा होती है, जबकि सबसे तीव्र गति वाले कालद डेस्कटॉप पेन्टियम ड्यूल-कोर 3.2 गिगाहर्ट्ज़ तक तक पहुंचता है। इन प्रोसेसरों के बीच एक प्रमुख अंतर यह है कि डेस्कटॉप पेन्टियम ड्यूल-कोर प्रोसेसरों में केवल 65 वाट का थर्मल डिजाइन पॉवर (TDP) होता है जबकि पेन्टियम D में यह 95 से 130 वाट के बीच होता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • पेन्टियम (ब्रांड)
  • इंटेल पेन्टियम ड्यूल-कोर माइक्रोप्रोसेसरों की सूची

संदर्भ[संपादित करें]