पराध्वनिक गति

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
एक अमेरिकी नौसेना का एफ़/ए-18इ/एफ़ सुपर होर्नेट ट्रांससोनिक उड़ान के दौरान
चित्र:FA-18 Hornet breaking sound barrier (7 जुलाई 1999) - filtered.jpg
अमेरिकी नौसेना का एफ़/ए-18 ध्वनि की दीवार के निकट पहुँचता हुआ। एक सफ़ेद छल्ला देखा जा सकता है जो जमी हुई पानी की बूंदों से बना है जो विमान से निकली तरंग (शोकवेव) के कारण बनी है।[1][2]

पराध्वनिक गति (अंग्रेज़ी: Supersonic Speed) किसी वस्तु की रफ़्तार को कहते है जब वह ध्वनि की गति (जिसे माक १ कहते है) से तेज़ जाती है। 20 °C (68 °F) के तापमान की शुष्क हवा में यात्रा करने वाली वस्तुओं के लिए यह रफ़्तार लगभग 343 मी/से, 1125 फी/से, 758 मिल प्रतिघंटा या 1235 किमी/घंटा होती है। ध्वनि की गति से पाँच गुना अधिक रफ़्तार (माक ५) को हायपरसोनिक (आवाज़ से जल्द) रफ़्तार कहते है। उड़ान जिसके दौरान हवा के केवल कुछ हिस्से जैसे रोटर के पंखें के सिरे पराध्वनिक गति तक पहुँचते है तो उस उड़ान को ट्रांससोनिक कहते है। यह आम तौर पर मक ०.८ से मक १.२.३ के बिच होता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]