नीलम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
नीलम
Sapphire01.jpg
सामान्य
वर्ग खनिज विविध
रासायनिक सूत्र अल्यूमिनियम भस्म, Al2O3
पहचान
वर्ण लाल के सिवाय हरेक रंग (लाल माणिक्य है)
क्रिस्टल हैबिट भारी एवं ग्रैन्यूलर
क्रिस्टल प्रणाली ट्राईगोनल
क्लीवेज नहीं
फ्रैक्चर कॉन्कॉएडल, स्प्लिन्टरी
मोह्ज़ स्केल सख्तता 9.0
चमक काँचमय
रिफ्रैक्टिव इंडेक्स 1.762-1.778
ऑप्टिकल गुण Abbe number 72.2
प्लेओक्रोइज्म़ प्रबल
स्ट्रीक श्वेत
स्पैसिफिक ग्रैविटी 3.95-4.03
फ्यूजि़बिलिटी इनफ्यूजि़बल
घुलनशीलता अघुलनशील
अन्य लक्षण तापीय प्रसार का गुणांक 5e-6–6.6e-6/K

नीलम एक रत्न श्रेणी का खनिज है। यह अल्यूमिनियम भस्म (ऑक्साइड) (Al2O3) है, जब यह लाल के सिवाय अन्य वर्ण का होता है। नीलम प्रकृति में भी मिलता है, एवं कृत्रिम भी बनाया जाता है। अपनी उल्लेखनीय सख्तता के कारण कई अनुप्रयोगों में प्रयुक्त होता है, जैसे अधोरक्त दृष्टि सम्बन्धी उपकरण, घडी़ के क्रिस्टल, अर्धचालकों की डिपोसीशन हेतु जैसे कि GaN nanorods

प्राकृतिक नीलम[संपादित करें]

नीला नीलम[संपादित करें]

यह 422.99-कैरेट का लोगान सैफायर है, जो वाशिंगटन डी सी के राष्ट्रीय प्राकृतिक इतिहास संग्रहालय में सुरक्षित है। यह विश्व का सर्वाधिक बडा़ तराशा हुआ नीला नीलम है।

सुंदर वर्ण के नीलम[संपादित करें]

बर्ण बदलता नीलम[संपादित करें]

वर्ण बदलता नीलम बाहरी प्रकाश में नीला दिखता है और बल्ब की प्रकाश में पर्पल दिखता है। यह दिन के प्रकाश में गुलाबी (रंग) का एवं प्रतिदीप्त प्रकाश में हरीतिमा के संग दिखाई देता है।

सितारा नीलम[संपादित करें]

182 कैरेट (36.4 g) का बम्बई का सितारा, वॉशिंगटन के संग्रहालय में रखा है।

उपचार[संपादित करें]

खान[संपादित करें]

कृत्रिम नीलम[संपादित करें]

चित्र:Labstarsapphirering.JPG
रजत मुद्रिका में एक सितारा नीलम

ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक सन्दर्भ[संपादित करें]

  • नीला नीलम शनि ग्रह से सम्बन्धित है (Wojtilla, 1973), पीला नीलम बृहस्पति से वैदिक ज्योतिषशास्त्र के अनुसार। इसे संस्कृत में शनिप्रिय भी कहते हैं, जिसे बौद्ध भिक्षु मध्य एशिया ले गए थेजो बिगड़ कर शनिप्रिय से सपिर एवं सैपहाएर या सैफायर बन गया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

साँचा:Jewellery Materials