ट्रिप्स

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

ट्रिप्स (en:TRIPs: Trade-Related Aspects of Intellectual Property Rights) विश्व व्यापार संगठन (en:WTO) द्वारा संचालित अन्तर्राष्ट्रीय संधि है, जिसमे बौद्धिक सम्पत्ति के अधिकारों के न्यूनतम मानकों को तय किया गया है। 1994 मे गैट (en:GATT - General Agreement of Trade and Tariff) के आंठवें चक्र (उरूगुए चक्र) के अंत मे इसे तय किया गया। यह विश्व व्यापार संगठन के समय किये गए कई समझौते से एक है।

ट्रिप्स सात प्रकार की बौद्धिक संपत्ति अधिकारों की चर्चा करता है:

  1. प्रतिलिपि प्राप्त करने तथा उससे सम्बन्धित अधिकार (कौपीराईट एवं रिलेटेड राईटस) (Copyright and Related Rights)
  2. ट्रेड मार्क (en:Trade Mark)
  3. भौगोलिक उपदर्शन (Geographical Indication)
  4. औद्योगिक डिज़ाईन (Industrial Design)
  5. पेटेंट (en:Patents)
  6. इन्टीग्रेटेड सर्किट की डिज़ाईन (Layout- designs (Topography) of Integrated Circuit)
  7. अप्रकाशि‍त सूचना का संरक्षण या Trade Secret ट्रेड सीक्रेट (Protection of undisclosed Information)

ट्रिप्स, डब्लू. टी. ओ. सदस्य देशों को बौद्धिक सम्पत्ति के अधिकारों के अनुपालन के लिए बाध्य करता है, जिसमे भारत भी शामिल है। इसीलिये भारत ने बौद्धिक संपदा अधिकार से सम्बन्धित कानूनों को संशोधित किया है। यह संशोधन करने के लिये अलग अलग तरह के देशों के लिये अलग समय की सीमा है। भारत की यह सिमा 31 दिसम्बर 2004 थी। भारतवर्ष की सरकार के अनुसार या तो कानून बना लिये गये हैं या फिर कानून में परिवर्तन कर दिया गया है।

यह भी देखें[संपादित करें]