जे एन जयश्री

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जे एन जयश्री भारत से एक साधारण गृहणी हैं जिन्होंने कर्नाटक राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार को अनावृत किया और घूस खाने वाले भ्रष्ट सरकारी अफ़सरों का विरोध करने वाले अपने पति, व वरिष्ट आईएएस अधिकारी, एम एन विजयकुमार की प्राणरक्षा हेतु एक विकी जालघर का निर्माण किया[1]। विकी के ज़रिये जयश्री लोगों के बीच मामले के प्रति जागरुकता फैलाना चाहती थीं क्योंकि उन्हें डर था कि उनके पति का अंजाम भी शणमुघम मंजुनाथ या सत्येंद्र दुबे जैसा होगा। मंजुनाथ और दुबे दोनों ही सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी व सरकारी विभागों में भ्रष्टाचार का विरोध करने पर अपनी जान से हाथ धो बैठे थे[2]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]