अपरमाणविक कण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

भौतिकी में अपरमाणविक कण (subatomic particles) उन कणों को कहते हैं जिनसे मिलकर न्युक्लियॉन (nucleons) और परमाणु बने हैं।

अपरमाणविक कण दो प्रकार के हैं -

  • मूल कण (elementary particles), जो किसी अन्य कण से मिलकर नहीं बने हैं।
  • मिश्र या संयुक्त कण (composite particles)

कण भौतिकी एवं नाभिकीय भौतिकी में इन कणों का तथा इनके परस्पर अन्योन्य क्रियाओं का अध्ययन किया जाता है।

मूल कण[संपादित करें]

अपरमाणवीय कणों का सोपान (हाइरार्की)

मानक मॉडल में आजकल निम्नलिखित कण सम्मिलित हैं -

  • ६ प्रकार के लेप्टॉन (leptons): इलेक्ट्रॉन, न्यूट्रिनो, म्यूऑन, म्यूऑन न्यूट्रिनो, टाऊ, टाऊ न्यूट्रिनो;
  • १२ गेज बोसॉन (gauge bosons (बल वाहक)): विद्युत चुम्बकीय अन्योन्य क्रिया के लिए फोटॉन, दुर्बल अन्योन्य क्रिया के लिए W और Z बोसॉन तथा प्रबल अन्योन्य क्रिया के लिए आठ ग्लुऑन।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]