चुम्बकीय फ्लक्स

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

चुम्बकीय फ्लक्स (Magnetic flux) वह भौतिक राशि है जो किसी तल (जैसे किसी चालक तार की कुण्डली) से होकर गुजरने वाले चुम्बकीय क्षेत्र का सम्पूर्ण परिमाण की माप है। इसे संक्षेप में Φm से निरूपित किया जाता है। इसका SI मात्रक वेबर (weber) है ; व्युत्पन्न मात्रक वोल्ट-सेकेण्ड है तथा CGS मात्रक 'मैक्सवेल' है।

चुम्बकीय फ्लक्स अत्यन्त महत्वपूर्ण भौतिक राशि है क्योंकि -

  • किसी बन्द लूप में उत्पन्न विद्युतवाहक बल का मान उस लूप में स्थित चुम्बकीय फ्लक्स के परिवर्तन की दर के बराबर होता है (फैराडे का प्रेरण का नियम)
  • विभिन्न स्थितियों में लगने वाले चुम्बकीय बल का परिमाण फ्लक्स घनत्व (B) का फलन होता है। उदाहरण के लिये किसी चुंबकीय क्षेत्र में में गतिशील किसी आवेशित कण पर लगने वाला बल = q v B .

गणितीय परिभाषा[संपादित करें]

\textrm{d}\Phi = \vec{B}\cdot\vec{\textrm{d}S} = \|\vec B\|\cdot\|\vec {\textrm{d} S}\|\cdot\cos\theta

या

\Phi = \int \!\!\! \int_S d\Phi \, = \int \!\!\! \int_S \vec{B} \cdot \vec{dS}\,

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]