4 गोरखा राइफल्स

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

4 गुरखा राइफल्स, भारतीय सेना का एक सैन्य-दल है। यह एक गोरखा इंफेंट्री रेजिमेंट है जिसमें नेपाली मूल के गोरखा सैनिकों शामिल हैं। मूल रूप से 1815 में ब्रिटिश भारतीय सेना के हिस्से के रूप में इसका गठन किया गया था, 1947 में, भारत की स्वतंत्रता के बाद, इसे भारतीय सेना को हस्तांतरित किया गया सेना और 1950 में जब भारत एक गणराज्य बन गया, तो इसका नाम 1 गोरखा राइफल्स (मलऊन रेजिमेंट) रखा गया। रेजिमेंट को काफी लंबा अनुभव है और आजादी से पहले कई औपनिवेशिक संघर्षों , साथ ही प्रथम और द्वितीय विश्व युद्ध सहित कई संघर्ष में भाग लिया है। 1947 के बाद से रेजिमेंट संयुक्त राष्ट्र के शांति अभियानों का हिस्से हिस्सा भी रही है व 1965 और 1971 में पाकिस्तान के खिलाफ अभियानों में भाग भी भाग लिया है।.[1]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  1. भारतीय सेना की रेजिमेंट्स की सूची
  2. भारतीय सेना

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Kesava Menon, Kesava (December 20, 2000). "Gorkhas stand tall even here [गोरखा यहाँ भी डट कर खड़े होते हैं]" (इंग्लिश में). Hindu.