2016 के उत्तर कोरियाई परमाणु परीक्षण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
2016 के उत्तर कोरियाई परमाणु परीक्षण
सूचना
देश उत्तर कोरिया
परीक्षण स्थल 41°18′32″N 129°02′02″E / 41.309°N 129.034°E / 41.309; 129.034निर्देशांक: 41°18′32″N 129°02′02″E / 41.309°N 129.034°E / 41.309; 129.034,[1] पुंग्ये-री परमाणु परीक्षण स्थल, किल्जु काउंटी
अवधि 10:00:01, 6 जनवरी 2016 (2016-01-06T10:00:01) यूटीसी+08:30 (01:30:01 यूटीसी)[1]
कुल परीक्षण 1
परीक्षण प्रकार भूमिगत
उपकरण का प्रकार उत्तर कोरियाई सरकार के अनुसार हाइड्रोजन, दक्षिण कोरियाई राष्ट्रीय गुप्तचर सेवा के अनुसार परमाणु
भ्रमण
पिछला परीक्षण 2013 के परीक्षण

6 जनवरी 2016 को 10:00:01 यूटीसी+०८:३० पर, उत्तर कोरिया ने किल्जु शहर, किल्जु काउंटी से लगभग 50 किलोमीटर (30 मील) दूर उत्तर-पश्चिम में अपने पुंग्ये-री परमाणु परीक्षण स्थल पर एक भूमिगत परमाणु परीक्षण किया। उत्तर कोरियाई मीडिया ने इन परीक्षणों के बाद इसके सफल होने का दावा किया; उत्तर कोरिया के पास इस क्षमता का होना लगभग एक महीने पहले से ही चर्चा का विषय बना हुआ था।[2] संयुक्त राज्य भूगर्भ सर्वेक्षण ने इस जगह के पास 5.1 परिमाण के भूकंप आने का दावा किया; चीनी भूकम्प नेटवर्क केंद्र ने इसके 4.9 परिमाण के होने का दावा किया[1][3][4]; वहीं दक्षिण कोरियाई मौसम विभाग के अनुसार इसकी तीव्रता 4.2 पैमान की थी।[5]

द न्यूयॉर्क टाईम्स के अनुसार, उत्तर कोरिया ने परीक्षण को सफल बताया,[6] जबकि द गार्जियन के अनुसार कोरियाई सरकार ने इसे अमेरिका के बेहद ज्यादा परमाणु हथियारों के जवाब में अपनी सुरक्षा के लिये किया गया परीक्षण बताया है।[3]एन॰के॰ न्यूज ने अपनी रपट में कोरियाई केंद्रीय दूरदर्शन को उद्धृत करते हुए कहा कि,

"The U.S. has gathered forces hostile to [the] DPRK and raised a slanderous human rights issue to hinder [the] DPRK’s improvement. It is [therefore] just to have [a] H-bomb as self-defense against the U.S. having numerous and humongous nuclear weapons. The DPRK’s fate must not be protected by any forces but [the] DPRK itself".

एन॰के॰ न्यूज[7]

हालांकि दक्षिण कोरिया की गुप्तचर संस्था और बाहरी परमाणु विशेषज्ञ प्योंगयांग के दावों पर शक़ करते हुए कह रहे हैं कि उत्तर कोरिया ने हाइड्रोजन नहीं बल्कि किसी आम परमाणु बम का परीक्षण किया है।[8]

पृष्ठभूमि[संपादित करें]

उत्तर कोरिया (आधिकारिक: कोरियाई लोकतांत्रिक गणराज्य अंग्रेज़ी: Democratic People's Republic of Korea, या DPRK) ने इसके पहले तीन भूमिगत परमाणु परीक्षण किये हुए थे। ये परीक्षण वर्ष २००६, २००९, और २०१३ में हुए थे जिनके फलस्वरूप संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया पर विभिन्न किस्म के प्रतिबंध लगा दिये थे।[3][6][9]

दिसम्बर २०१५ में, उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन ने कहा था की उनके देश के पास हाइड्रोजन बम के प्रक्षेपण करने की क्षमता है। ज्ञात हो कि, हाइड्रोजन बम उत्तर कोरिया द्वारा बम पहले परीक्षण किये गये आम परमाणु बमों की तुलना में कहीं ज़्यादा ताक़तवर और विनाशकारी होता है।[10] उन के इस दावे को व्हाइट हाउस और दक्षिण कोरियाई अधिकारियों के द्वारा संदेह से देखा गया।[11]

नव वर्ष दिवस पर दिये गये अपने भाषण में, किम जोंग-उन ने चेताया था कि बाहरी शक्तियों द्वारा की गई उकसावे की कार्वाइयों को "न्याय की पवित्र लड़ाई" ("holy war of justice") से निपटा जायेगा।[12]

परीक्षण[संपादित करें]

२०१६ के परमाणु परीक्षण 10:00:01, 6 जनवरी 2016 (2016-01-06T10:00:01) स्थानीय समय (01:30:01 यूटीसी)[1] पर पुंग्ये-री परमाणु परीक्षण स्थल में किये गये बताए गये जिनकी वजह से ४.९ अथवा ५.१ परिमाण का भूकम्प दर्ज किया गया। [1][3] यह २०१३ में हुए पिछले परीक्षण के दौरान आये ५.१ परिमाण के भूकम्प जैसा ही था।[13] २०१३ के परीक्षणों पर उत्तर कोरिया ने ६-९ किलोटन टीएनटी के समतुल्य के विस्फ़ोट होने का दावा किया था।[14] हालांकि, २०१६ के परीक्षणों को उत्तर कोरिया ने हाइड्रोजन बम का एक सफल परीक्षण बताया है, अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों और दक्षिण कोरियाई सरकार ने इस पर संदेह जताया है।[15]

अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रियाएँ[संपादित करें]

उत्तर कोरिया की इस घोषणा के बाद दुनिया भर में इन परीक्षणों की आलोचना का दौर शुरू हो गया। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने इसकी निंदा करते हुए कहा कि "...(उत्तर कोरिया) अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए एक स्पष्ट ख़तरा बना हुआ है।"[16] सुरक्षा परिषद का कहना है कि उत्तर कोरिया ने परमाणु परीक्षण करके संयुक्त राष्ट्र के पहले के प्रस्तावों का उल्लंघन किया है और इसके मद्देनज़र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया पर और प्रतिबंध लगाने की बात भी कही है।[16]

दक्षिण कोरिया[संपादित करें]

Flag of South Korea (bordered).svg दक्षिण कोरिया ने इसे विश्व शांति के लिये गंभीर खतरा बताते हुए इसे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के संकल्पों की घोर अवहेलना बताते हुए इसकी कड़ी भर्त्सना की है।

जापान[संपादित करें]

Flag of Japan.svg जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने इन परीक्षणों को परमाणु हथियार निषेधन की अंतरराष्ट्रीय प्रयासों को चुनौती और उसकी अवमानना बताया है। उन्होंने इसे जापान की सुरक्षा के लिये खतरा बताते हुए कहा है कि उनका देश इन परीक्षणों के जवाब में कड़ी कार्यवाई करेगा।[17][18]

ऑस्ट्रेलिया[संपादित करें]

Flag of Australia.svg ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री जूली बिशप ने एक विज्ञप्ति में इसे उत्तर कोरियाई सरकार की भड़काऊ और खतरनाक कार्यवाई बताते हुए इसकी भर्त्सना की। [19]

चीन[संपादित करें]

Flag of the People's Republic of China.svg चीनी जनवादी गणराज्य के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि चीन इस परमाणु परीक्षण का विरोध करता है।[20]

फिलिपींस[संपादित करें]

Flag of the Philippines.svg फ़िलीपीन्स के विदेश मंत्रालय ने कहा कि फिलिपींस संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के उत्तर कोरिया को परमाणु परीक्षणों के संदर्भ में दिये गये दिशा निर्देशों की अवहेलना करने वाली किसी भी कार्यवाई की घोर भर्त्सना करता है। [21]

संयुक्त राज्य अमेरिका[संपादित करें]

Flag of the United States.svg संयुक्त राज्य ने कहा कि वो उकसावे की कार्यवाईयों का जवाब देगा और उत्तर कोरिया को अपने अंतरराष्ट्रीय वादों का मान रखना चाहिये। [22]

संयुक्त राष्ट्र[संपादित करें]

Flag of the United Nations.svg संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण के दावों की हकीकत जाँचने व बाद के हलातों पर चर्चा करने के लिये व उ.को. पर और अधिक प्रतिबंध लगाने या किसी कार्यवाई पर चर्चा करने के लिये बैठक बुलाई है।[23]

रूसी संघ[संपादित करें]

Flag of Russia.svg रूस की सरकार ने हाइड्रोजन बम परीक्षण की घोर भर्त्सना करते हुए इसे देश के लिये खतरा बताया है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "M5.1 - 21km ENE of Sungjibaegam, North Korea". संयुक्त राज्य भूगर्भ सर्वेक्षण. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  2. "DPRK Proves Successful in H-bomb Test" [डीपीआरके हाइड्रोजन बम परीक्षण में सफल साबित हुआ] (अंग्रेज़ी में). प्योंगयांग: कोरियाई केन्द्रीय समाचार संस्था. 6 जनवरी 2016. |access-date= दिए जाने पर |url= भी दिया होना चाहिए (मदद)
  3. "North Korea carries out fourth nuclear test" [उत्तर कोरिया ने चौथा परमाणु परीक्षण किया]. द गार्जियन (अंग्रेज़ी में). 6 जनवरी 2016. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  4. मुनरो, टोनी (6 जनवरी 2016). "North Korea says tested hydrogen nuclear device" [उत्तर कोरिया का कहना कि उसने हाइड्रोजन परमाणु हथियार का परीक्षण किया] (अंग्रेज़ी में). रॉयटर्स. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  5. "उत्तर कोरिया ने हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया" (अंग्रेज़ी में). बीबीसी हिन्दी. 6 जनवरी 2016. अभिगमन तिथि 7 जनवरी 2016.
  6. सैंगर, डेविड इ.; सैंग-हुन, चो (5 जनवरी 2016). "North Korea Announces That It Has Detonated First Hydrogen Bomb" [उत्तर कोरिया ने पहले हाइड्रोजन बम के परीक्षण की घोषणा की]. द न्यूयॉर्क टाईम्स (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  7. "North Korea says it tested hydrogen bomb" [उत्तरकोरिया के अनुसार उसने हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया] (अंग्रेज़ी में). एन॰के॰ न्यूज. २०१६-०६-०१. अभिगमन तिथि २०१६-०८-०१.
  8. "Russia: It hasn't been confirmed that North Korea has carried out a nuclear test" [रूस:यह साबित नहीं कि उत्तर कोरिया ने परमाणु परीक्षण संपन्न किया]. द हिंदू (अंग्रेज़ी में). 6 जनवरी 2016. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  9. "Chronology of major events leading to N. Korea's H-bomb test" [उत्तर कोरिया के हाइड्रोजन बम परीक्षण के पूर्व प्रमुख घटनाओं की समयरेखा] (अंग्रेज़ी में). योनहैप. 6 जनवरी 2016. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  10. "North Korea has a hydrogen bomb, says Kim Jong-un". द गार्जियन (अंग्रेज़ी में). रॉयटर्स. 10 दिसम्बर 2015. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  11. सैंग-हुन, चो (10 December 2015). "Kim Jong-Un's Claim of North Korea Hydrogen Bomb Draws Skepticism". द न्यूयॉर्क टाईम्स (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  12. "North Korea's Kim Says He Is Ready For War" [उत्तर कोरिया के किम का कहना है कि वे युद्ध के लिये तैयार हैं]. स्काई न्यूज़ (अंग्रेज़ी में). 1 जनवरी 2016. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  13. "M5.1 – 24km ENE of Sungjibaegam, North Korea" (अंग्रेज़ी में). USGS. 12 फरवरी 2013. अभिगमन तिथि 12 फरवरी 2013.
  14. चोई हे-सुक (14 फरवरी 2013). "Estimates differ on size of N.K. blast" [उत्तर कोरिया के परीक्षणों की क्षमता के अनुमानों पर मतभेद] (अंग्रेज़ी में). द कोरिया हेराल्ड. अभिगमन तिथि 17 फरवरी 2013.
  15. जस्टिन मैकरी और माइकल साफी (2016-01-06). "North Korea claims successful hydrogen bomb test in 'self-defence against US'" [उत्तर कोरिया द्वारा "यूएस के खिलाफ़ आत्मरक्षा" के लिये हाइड्रोजन बम के सफल परीक्षण का दावा] (अंग्रेज़ी में). द गार्जियन.
  16. "सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया की निंदा की" (अंग्रेज़ी में). बीबीसी हिंदी. 7 जनवरी 2016. अभिगमन तिथि 7 जनवरी 2016.
  17. http://s.news.nifty.com/topics/detail/160106042230_1.htm
  18. Umekawa, Takashi (6 जनवरी 2016). "Japan says to make firm response to N. Korea's nuclear test". Reuters. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  19. "Aust govt condemns North Korea's actions". स्काई न्यूज़ ऑस्ट्रेलिया. 6 जनवरी 2016. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  20. "China firmly opposes DPRK's nuclear test". Xinhua News Agency. अभिगमन तिथि 2016-01-06.
  21. http://www.mb.com.ph/ph-expresses-grave-concern-over-north-koreas-hydrogen-bomb/#Y6qjk0ClSOGEkBmT.99
  22. "North Korea announces hydrogen bomb test". बीबीसी समाचार. 6 जनवरी 2016. अभिगमन तिथि 6 जनवरी 2016.
  23. "North Korea says it has conducted hydrogen bomb test - CNN.com". CNN. अभिगमन तिथि 2016-01-06.