2011 दिल्ली बम विस्फोट

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

2011 दिल्ली बम विस्फोट 7 सितंबर 2011 को भारत की राजधानी दिल्ली में उच्च न्यायालय के बाहर हुआ था।[1][2]

विस्फोट[संपादित करें]

बम उच्च न्यायालय के गाते संख्या-5 के बाहर एक ब्रीफकेस में रखा गया था। विस्फोट स्थानीय समय के अनुसार सुबह 10:15 पर हुआ था।[1][2] इस विस्फोट से 11 लोगों की मृत्यु हुई और कम-से-कम 50 लोग घायल हुए।[1][3]

जाँच[संपादित करें]

दिल्ली पुलीस ने धमाके के दिन ही दो संदिग्ध व्यक्तियों के स्केच जारी किये जिनपर बम लगाने का संदेह था। उनमें से एक की आयु 50 से 60 वर्ष के बीच थी और दूसरे की 20-30 वर्ष के बीच।[4]

प्रतिक्रिया[संपादित करें]

आतंरिक[संपादित करें]

अंतर्राष्ट्रीय[संपादित करें]

  • संयुक्त राज्यसंयुक्त राज्य अमेरिका के भारत में कार्यवाहक राजदूत (chargé d'affaires) पीटर बर्लिग ने कहा: "मैं सभी अमरीकियों की तरफ से भारत सरकार और इस धमाके में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं।"[3]
  • यूनाइटेड किंगडमब्रिटेन के भारत में उच्चायुक्त सर रिचर्ड स्टैग ने कहा: "इन हमलों में जिन लोगों के परिवारजन मारे गए हैं या घायल हुए हैं मेरी संवेदनाएँ उन परिवारों के साथ हैं। मैं ऐसी घटनाओं की निंदा करता हूँ। मुझे पूरा विश्वास है कि दिल्ली के नागरिक ऐसी घटनाओं से विचलित नहीं होंगे।"[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "दिल्ली हाईकोर्ट पर आतंकी हमला, 11 मरे, 76 जख्मी". NDTV ख़बर. 7 सितंबर 2011. मूल से 25 December 2018 को पुरालेखित.
  2. "दिल्ली हाईकोर्ट के गेट नंबर 5 पर धमाका". आज तक. 7 सितंबर 2011. मूल से 25 December 2018 को पुरालेखित.
  3. "दिल्ली धमाकों पर अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रिया". बी॰बी॰सी॰. 7 सितंबर 2011. मूल से 25 December 2018 को पुरालेखित.
  4. "Sketches of two suspects released". http://www.thehindu.com (अंग्रेज़ी में). द हिन्दू. मूल से 25 December 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 नवम्बर 2011. |work= में बाहरी कड़ी (मदद)