१९५९ का तिब्बती विद्रोह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

१० मार्च १९५९ को तिब्बत पर चीन के अधिकार के विरुद्ध तिब्बत की राजधानी ल्हासा में एक विद्रोह शुरु हुआ जिसे तिब्बती विद्रोह कहा जाता है। ध्यातव्य है कि १९५१ में १७ बिन्दु समझौते के द्वारा चीन ने तिब्बत का नियंत्रण अपने हाथ में कर लिया था। यद्यपि १४वें दलाई लामा सन १९५९ में तिब्बत से बाहर निकले, किन्तु खाम और अम्बो क्षेत्रों में तिब्बती विद्रोहियों और चीनी सैनिकों के बीच संघर्ष १९५६ से ही शुरू हो गया था। यह छापामार युद्ध १९६२ तक चला जिसे चीन ने अत्यन्त नृशंश तरीके के दमन द्वारा दबा दिया।

१० मार्च को निर्वासित तिब्बती लोग तिब्बती विद्रोह दिवस के रूप में मनाते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]