हिमानी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पृथ्वी की सतह पर गतिशील विशाल आकार के बर्फराशि को हिमनद या हिमानी (glacier) कहते है। प्रायः यह पर्वत के उपर निर्मित एक हिमखंड होता है जो पिघलने पर जल देता है । हिमालय में हजारों छोटे-बड़े हिमनद है जो लगभग 3350 वर्ग किमी0 क्षेत्र में फैले है। कुछ विशेष हिम खण्डों का विवरण निम्नवत् है -

हिमनद

बनागी- यह नंदा देवी विशाल हिमखण्ड के निचले भाग में स्थित है जिससे ऋषि गंगा नदी बनती है।

बनकुण्ड- यह उत्तर-पश्चिमी गढ़वाल में स्थित है तथा इससे अमृत गंगा नदी बनती है। बरमा- यह गढ़वाल में चमोली जिले के उत्तर में तथा कालापानी हिमखण्ड के पश्चिम में 0.75 किमी0 लम्बा हिमखण्ड है।

भगीरथी खरक- यह केदारनाथ के पूर्व में स्थित हिमखण्ड है जहॉं से मंदाकिनी नदी निकलती है। भृगुपंथ- यह गढ़वाल में उत्तरकाशी के उत्तर में गंगोत्री हिमखण्ड को बनाता है।

बूढ़- यह 3 किमी0 लम्बा हिमखण्ड है जो गढ़वाल व कुमाऊँ की सीमा पर नन्दा देवी के निचले ढाल पर स्थित है।

बर्ला- यह पिंडारी हिमखण्ड के चारों ओर पश्चिमी ढाल पर झूलती घाटी में स्थित है।

चंगा बंग- यह नन्दा देवी पर्वत पर स्थित है तथा इससे ऋषि गंगा नदी निकलती है।

चतुरंगी- यह चौखम्भा पर्वत के निचले ढाल पर स्थित है।

चोर बामक- चमोली जिले के उत्तर पश्चिम में केदारनाथ के निचले ढाल पर स्थित है, जिसका पानी मंदाकिनी में मिलता है।

गंगोत्री- यह 26 किमी0 लम्बा तथा 4 किमी0 चौड़ा हिमखण्ड उत्तरकाशी के उत्तर में स्थित है।

कफनी- यह 5 किमी0 लम्बा व 2.5 किमी0 चौड़ा हिमखण्ड गढ़वाल व कुमाऊँ की सीमा पर नन्दादेवी के दक्षिण पश्चिमी ढाल पर स्थित है।

काराकोरम का बालतोड़ो हिमनद

कागभुसंड- यह 4 किमी0 लम्बा हिमखण्ड चमोली जिले के उत्तर में स्थित है।

कालापानी- यह 5 किमी0 लम्बा तथा 1 किमी0 चौड़ा हिमखण्ड चमोली के उत्तर में स्थित है।

कामत- यह उत्तर पश्चिमी गढ़वाल में कामत पर्वत के मध्य स्थित है।

कंकुल खाल- यह चमोली के उत्तर-पश्चिम में स्थित हिमखण्ड है।

खत्लिंग- यह 1.5 किमी0 लम्बा हिमखण्ड टिहरी के उत्तरी भाग में स्थित है।

कीर्ति बामक- यह उत्तर-मध्य गढ़वाल में स्थित है।

लाल माटी- यह 0.7 किमी0 लम्बा हिमखण्ड मण्डल घाटी के ऊपरी भाग में स्थित है।

मांडा- यह उत्तरी-मध्य गढ़वाल में स्थित है।

मेरू- यह उत्तरकाशी के उत्तर में निचली पहाड़ियों पर स्थित है।

मिलम- यह उत्तर-पश्चिमी गढ़वाल के दक्षिणी ढाल पर स्थित है।

मृगथुनी- यह 6 किमी लम्बा हिमखण्ड नन्दा देवी पर्वतमाला के निचले भाग में स्थित है।

नन्दा देवी (उत्तर)- यह नन्दा देवी पर्वतमाला पर स्थित छोटा हिमखण्ड है।

नीति- यह गढ़वाल में नीति-पास के दक्षिणी ढाल पर छोटा हिमखण्ड है।

पनवाली- यह उत्तर-पश्चिमी गढ़वाल के दक्षिणी ढाल पर स्थित हिमखण्ड है।

पिंडारी- यह गढ़वाल-कुमाऊँ सीमा के उत्तरी भाग पर स्थित विशाल हिमखण्ड है।

पुरबी-कामत- यह उत्तर-पश्चिमी गढ़वाल के उश हिमालय पर स्थित है।

रायकाना- यह उत्तर-पश्चिमी गढ़वाल के दक्षिणी ढाल पर स्थित है।

रक्त्रवर्ण- यह उत्तर-मध्य गढ़वाल के चौखम्भा पर्वतमाला पर स्थित है।

रमानी- यह चमोली के ऊपरी ऋषि-गंगा जलागम में स्थित छोटा हिमखण्ड है।

रतबन- यह उत्तर-पश्चिमी गढ़वाल में रतबन चोटी के आधार पर स्थित हिमखण्ड है।

ऋषि- यह नन्दादेवी पर्वत माला के ढाल पर स्थित छोटा हिमखण्ड है।

सतोपंथ- यह गढ़वाल में केदारनाथ क्षेत्र में स्थित हिमखण्ड है।

सुखराम- यह उत्तर-पश्चिमी गढ़वाल में मुख्य हिमालय के दक्षिणी भाग पर स्थित हिमखण्ड है।

त्रिषूल- यह गढ़वाल में ऊपरी ऋषि गंगा की घाटी में स्थित छोटा हिमखण्ड है।

उत्तरी पैकाना- यह उत्तरी गढ़वाल के कामत पर्वतमाला पर स्थित हिमखण्ड है।

वसूकी- यह गढ़वाल में मंदाकिनी नदी के स्रोत के पास स्थित एक छोटा हिमखण्ड है।