हाथ में चोट

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

हाथ कई जोड़ों, बंधन, पट्टा और तंत्रिकाओं के विभिन्न प्रकारों के साथ एक बहुत ही जटिल अंग है। निरंतर उपयोग के साथ, यह कहना मुश्किल नही है की हाथ पर जादा चोटे लगती है।[1] हाथ चोटों के अत्यधिक उपयोग, अपक्षयी विकारों या मानसिक आघात से परिणाम कर सकते हैं।

कारण[संपादित करें]

  • उंगलियों के भंग होती है जब उंगली या हाथ एक ठोस वस्तु पर लग जये या वस्तु से टकरा जाए।[2]
  • तंत्रिका चोट आघात, संपीड़न या अधिक खींच का एक परिणाम के रूप में होते हैं।
  • मोच आ सकती है जब हाथ के संयुक्त को अपनी समता से जादा खिचा जाए या उस पर जादा प्रभाव डाला जए।[3]

प्रकार[संपादित करें]

  • गठिया
  • कार्पल ट्यूनल सिण्‍ड्रोम
  • नाड़ीग्रन्थि अल्सर'
  • कण्डराशोथ
  • ट्रिगर दबाएं

निदान[संपादित करें]

उंगली का गुच्छा के फ्रैक्चर

फिंगर चोटों आमतौर पर एक्स-रे के साथ का निदान किया जाता है।

इलाज[संपादित करें]

अधिकांश हाथ चोटों छोटे होते हैं और कठिनाइयों के साथ ठीक कर सकता है। जब हाथ या उंगली कट जाती है, कुचल या दर्द हो रहा हो तो चिकित्सक को देका देना चाहए। हाथ चोटों जब समय पर इलाज नहीं दीर्घकालिक रुग्णता में परिणाम कर सकते हैं। सरल हाथ चोटों में एंटीबायोटिक दवाओं की आमतौर पर आवश्यकता नहीं है क्योंकि वे संक्रमण की संभावना को बदलने के लिए नहीं है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Common Hand Problems Archived 2016-10-16 at the Wayback Machine Eaton Hand Surgery. Retrieved on 2010-01-20
  2. Hand Injuries and Disorders Archived 2016-07-05 at the Wayback Machine Medline Plus. Retrieved on 2010-01-20
  3. Hand Injuries Archived 2016-11-18 at the Wayback Machine UeMedicine Health. Retrieved on 2010-01-20