हसीना मान जायेगी (1999 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
हसीना मान जायेगी
हसीना मान जायेगी.jpg
हसीना मान जायेगी का पोस्टर
निर्देशक डेविड धवन
अभिनेता गोविन्दा,
संजय दत्त,
करिश्मा कपूर,
पूजा बत्रा,
कादर ख़ान,
परेश रावल,
अरुणा ईरानी,
सतीश कौशिक,
अनुपम खेर,
आशीष विद्यार्थी
संगीतकार अनु मलिक
प्रदर्शन तिथि(याँ) 1999
देश भारत
भाषा हिन्दी

हसीना मान जायेगी 1999 की डेविड धवन द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की कॉमेडी फ़िल्म है। इसमें संजय दत्त, गोविन्दा, करिश्मा कपूर, पूजा बत्रा, अनुपम खेर, कादर ख़ान, अरुणा ईरानी और परेश रावल हैं। यह फिल्म 1966 की फिल्म प्यार किये जा द्वारा प्रेरित है और 1999 की पांचवीं सबसे ज्यादा कमाई करने वाली हिंदी फिल्म बन गई।

संक्षेप[संपादित करें]

अमीरचंद (कादर ख़ान) दो शरारती बेटे - सोनू (संजय दत्त) और मोनू (गोविन्दा) के बदकिस्मत पिता हैं। दोनों हमेशा शरारत करते रहते हैं। उनमें से अधिकतर वो अमीरचंद से धन चोरी करने का लक्ष्य रखते हैं।

शुरुआती दृश्य में वह गैंगस्टर के रूप में नाटक करते हैं और अपने पिता को बुलाते हैं। उनसे कहते है कि यदि वह जीना चाहते हैं तो एक बड़ी राशि दे। योजना विफल हो जाती है क्योंकि अमीरचंद टैक्सी का चालक बन जाता है जिसमें वे भाग रहे थे। बाद में, उन्होंने शकुंतला (बिन्दू) के साथ अपने पिता की शादी को फिक्स किया और उसके भाई जमनादास (असरानी) से अग्रिम दहेज के रूप में एक लाख रुपए ले लिए। यह योजना भी असफल हो जाती है क्योंकि अमीरचंद जामनादास और उनकी बहन को अपनाने से इनकार करते हैं।

अमीरचंद अपने बेटों को जीवन में गंभीर होने की चेतावनी देता है। उन्होंने मोनू से कार्यालय में जाने के लिए कहा और सोनू को गोवा जाकर कुछ पैसे लेने के लिये भेजा जो उन्होंने किसी को उधार दिये थे। जबकि मोनू लड़कियों के छात्रावास में घुसकर रितु (करिश्मा कपूर) के साथ छेड़छाड़ करता है, वहीं सोनू गलती से पैसे लेने गुलजारीलाल वर्मा (अनुपम खेर) के यहाँ जाता है। वहाँ वह पूजा (पूजा बत्रा) से मिलता है। रितु और पूजा दोनों गुलजारीलालकी बेटियां हैं।

सोनू और मोनू क्रमशः पूजा और रितु से प्यार करते हैं। सोनू मोनू को उसका चाचा बनकर को गोवा में बुलाता है। पूजा के विवाह उससे करने के लिये। ऐसे भ्रम की एक श्रृंखला की बन जाती हैं क्योंकि गुलजारिलाल की बहन संतो (अरुणा ईरानी) भी मोनू (चाचा के रूप) के साथ प्यार में पड़ती है।

समस्या से छुटकारा पाने के लिए, सोनू और मोनू ने चट्टान के ऊपर से अंकल की एक डमी फेंक दी। लेकिन अस्तित्वहीन चाचा की हत्या के लिए उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाता है। अमीरचंद को इसके बारे में पता चलता है और वह गोवा अपने सहायक कुंज बिहारीलाल (सतीश कौशिक) के साथ पहुँचते हैं। वह गुलजारीलाल के साथ पुलिस स्टेशन जा रहे होते हैं, तो उनका भाई (आशीष विद्यार्थी) द्वारा अपहरण कर लिया जाता है। भूतनाथ (परेश रावल) की मदद से मोनू और सोनू जेल से भागते हैं और अपने पिता और होने वाले ससुर को बचाते हैं। इस प्रकार वह योग्य बेटे साबित होते हैं।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत सूरज, आनंद बख्शी, समीर, नितिन राईकवर द्वारा लिखित; सारा संगीत अनु मलिक द्वारा रचित।

गाने
क्र॰ शीर्षक गायक अवधि
1. "आई लव यू बोल डाल" अलका याज्ञनिक, सोनू निगम, सुदेश भोंसले 6:40
2. "चींटी पहाड चढे" शंकर महादेवन, हेमा सरदेसाई, अहसान 6:34
3. "दुल्हा भी लाजवाब है" राम शंकर, सोनू निगम, कविता कृष्णमूर्ति 7:15
4. "पंगा न ले मेरे नाल" सोनू निगम, पूर्णिमा 6:20
5. "यूं हुआ" अलका याज्ञनिक, सोनू निगम 7:42
6. "वाट ईज युवर मोबाईल नंबर" अलका याज्ञनिक, सोनू निगम 6:10
7. "हसीना मान जाएगी" शंकर महादेवन, अहसान 4:11

परिणाम[संपादित करें]

बौक्स ऑफिस[संपादित करें]

समीक्षाएँ[संपादित करें]

नामांकरण और पुरस्कार[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]