हवा महल (रेडियो कार्यक्रम)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
जयपुर के महल के लिए हवा महल देखें

हवा महल भारत के विविध भारती रेडियो चैनल पर एक लोकप्रीय दैनिक कार्यक्रम है जो हर रात को प्रसारित होता है।[1] इसके प्रत्येक प्रसारण में किसी एक लेखक की कहानी का नाटकीय रूपांतर करके उसे प्रदर्शित किया जाता है। "मोदी के मतवाले राही" जैसे कुछ अन्य रेडियो कार्यक्रमों के साथ-साथ यह उन चंद-एक प्रोग्रैमों में था जिसे ऐसी कम्पनियों के विज्ञापनों के लिए अनुकूल माना जाता था जो देश-भर में अपनी छवि बनाना चाहती थीं। इसपर इश्तेहार देने की इतनी होड़ लगी रहती थी कि कभी-कभी छह मास तक के लिए सारा विज्ञापन समय बिक चुका होता था।[2]

इतिहास[संपादित करें]

हवामहल विविध भारती के शुरूआती कार्यक्रमों में से एक रहा है। यह नाटिकाओं और झलकियों का कार्यक्रम आज पचास सालों बाद भी उतनी ही लोकप्रियता के साथ चल रहा है। पहले ये रात सवा नौ बजे हुआ करता था। आज इसका समय है रात आठ बजे। हवामहल के लिए gdsgfhgtcutdqdfh और नाटक देश भर से तैयार करके भेजे जाते हैं। एक समय में फिल्मी कलाकार असरानी, ओम पुरी, ओम शिवपुरी, अमरीश पुरी, दीना पाठक, यूनुस परवेज़ जैसे कई नामी कलाकारों ने हवामहल के नाटकों में अभिनय किया है। हवामहल की कई झलकियां आज भी लोगों की स्‍मृतियों में हैं। इसकी खास तरह की संकेत-ध्‍वनि लोगों को अभी भी नॉस्‍टेलजिक बना देती है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. B. N. Goswami, Broadcasting: new patron of Hindustani music, Sharada Pub. House, 1996, आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788185616360, ... spoken word programmes like humorous plays, interviews, talks etc. out of them 'Hawa Mahal' is the most popular programme ...
  2. Vanita Kohli, The Indian media business, SAGE, 2006, आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780761934691, ... In that year Vividh Bharti, the film music channel of AIR, began accepting commercials. ... Since radio hardly had any competition, airtime and even sponsorships on some really popular programmes — like 'Hawa Mahal' or 'Modi Ke Matwale Rahi' — were booked six months in advance ...