हवाई जहाज

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
द्वितीय विश्व युद्ध का लड़ाकू जहाज - पी-51 मस्टंग

हवाई जहाज एक प्रकार का वायुयान होता है, जो अपने पंखों के द्वारा गति मिलने पर हवा में उड़ता है। यह कई आकार, वजन आदि में मिलता है। इसका मुख्य उपयोग वस्तुओं और लोगों को एक स्थान से दूसरे स्थान ले जाने में किया जाता है। इसके अलावा इसका उपयोग सेना, अनुसंधान कार्यों आदि में भी किया जाता है। बहुत से जहाज को उड़ाने के लिए चालक की आवश्यकता होती है, लेकिन कुछ को कम्प्यूटर की सहायता से भी चलाया जा सकता है।

नामकरण[संपादित करें]

इसका नाम हिन्दी भाषा जहाज शब्द के मेल से बना है। यह हवा में उड़ सकता है, इस कारण इसे हवाई जहाज कहते हैं। इसके अन्य नाम में एयरप्लेन भी है, जो इसके निर्माण और विकास के बाद बोला जाता है। इसके नाम में एयर शब्द ग्रीक भाषा से आया है[1] और प्लेन शब्द लेटिन[2] या ग्रीक भाषा से लिया गया है।[3][4]

इतिहास[संपादित करें]

17 दिसम्बर 1903 में राइट द्वारा बनाया गया पहला हवाई जहाज

राइट बंधुओं ने वर्ष 1903 को एक हवाई जहाज बनाया था।[5] लेकिन इसे पूरी तरह से नियंत्रित नहीं किया जा सकता था। वर्ष 1905 राइट फ्लेयर 3 बनाया था, जिसे पूरी तरह से नियंत्रित किया जा सकता था।

वर्ष 1906 में अल्बेर्टों सेंटोस डुमोंट ने दावा किया कि उसने पहला हवाई जहाज बनाया है।[6] इसके बाद 22 सेकंड में 220 मीटर की ऊँचाई में जा कर उस समय का विश्व कीर्तिमान बनाया।[7][8]

संचालक शक्ति[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. ἀήρ, Henry George Liddell, Robert Scott, A Greek-English Lexicon, on Perseus
  2. "aeroplane", Merriam-Webster Online Dictionary.
  3. πλάνος, Henry George Liddell, Robert Scott, A Greek-English Lexicon, on Perseus
  4. aeroplane, Oxford Dictionaries
  5. FAI News: 100 Years Ago, the Dream of Icarus Became Reality posted 17 December 2003. Retrieved: 5 January 2007.
  6. "Bernardo Malfitano - AirShowFan.com". airshowfan.com. http://www.airshowfan.com/first-airplane.htm. अभिगमन तिथि: 1 April 2015. 
  7. Jones, Ernest. "Santos Dumont in France 1906–1916: The Very Earliest Early Birds." earlyaviators.com, 25 December 2006. Retrieved: 17 August 2009.
  8. Les vols du 14bis relatés au fil des éditions du journal l'illustration de 1906. The wording is: "cette prouesse est le premier vol au monde homologué par l'Aéro-Club de France et la toute jeune Fédération Aéronautique Internationale (FAI)."

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]