हर्ष मंदर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
हर्ष मंदर
Harsh Mander.jpg
हर्ष मंदर, ऊर्जा और संसाधन संस्थान, बंगलोर में बोलते हुए।
जन्म 17 अप्रैल 1955 (1955-04-17) (आयु 67)
व्यवसाय लेखक, सामाजिक कार्यकर्ता

हर्ष मंदर (जन्म 17 अप्रैल 1955) एक भारतीय लेखक, [1] स्तंभकार, [2] [3] [4] शोधकर्ता, शिक्षक और सामाजिक कार्यकर्ता हैं[5] जिन्होंने कारवां-ए-मोहब्बत अभीयान सांप्रदायिक या धार्मिक रूप से प्रेरित हिंसा के शिकार लोगों के साथ शुरू किया था। [6] वह सेंटर फॉर इक्विटी स्टडीज, नई दिल्ली एक शोध संगठन के निदेशक हैं। [7] उन्होंने भोजन के अधिकार अभियान में भारत के सर्वोच्च न्यायालय में विशेष आयुक्त के रूप में भी कार्य किया और यूपीए सरकार के तहत स्थापित भारत सरकार की राष्ट्रीय सलाहकार परिषद के सदस्य रहे। [8] वह अपने उदार विचारों के लिए कभी-कभी मीडिया के ध्यान में आते हैं। [9] [10]

मंदर 28 फरवरी 2017

करियर[संपादित करें]

अध्यापन कार्य[संपादित करें]

साहित्यिक कार्य[संपादित करें]

पुरस्कार[संपादित करें]

यह भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Unequal Life Chances". Sage Publishing. मूल से 4 March 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 March 2020.
  2. "Harsh Mander". The Hindu. मूल से 4 March 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 March 2020.
  3. "Harsh Mander". The Wire. मूल से 4 March 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 March 2020.
  4. "Harsh Mander". OutlookIndia. मूल से 4 March 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 March 2020.
  5. "Manipal Institute of Communication". मूल से 4 March 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 March 2020.
  6. Natasha Badhwar (April 5, 2019). "Opinion: Why I travel with the Karwan-e-Mohabbat". Livemint.
  7. "Harsh Mander". Open Society Foundations (अंग्रेज़ी में). मूल से 16 अगस्त 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2019-11-22.
  8. Gupta, Smita (2010-06-10). "Manmohan acknowledges key role of NAC". The Hindu (अंग्रेज़ी में). आइ॰एस॰एस॰एन॰ 0971-751X. अभिगमन तिथि 2019-12-20.
  9. "Police seeks Contempt Case Against Activist Harsh Mander For Remarks On Supreme Court". NDTV.com.
  10. "सीएए का विरोध करने वाले हर्ष मंदर ने कसाब को बचाने की लगाई थी गुहार, जानें उनके बारे में". Dainik Jagran.