हबीब जालिब

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

हबीब जालिब (उर्दू: حبیب جالب) एक पाकिस्तानी क्रांतिकारी कवि, वामपंथी कार्यकर्ता और राजनीतिज्ञ जिसने मार्शल लॉ, अधिनायकवाद और राज्य दमन का विरोध किया।[1] पाकिस्तानी शायर फैज अहमद फैज ने उसे यह कह कर श्रद्धांजलि अर्पित की थी कि वह  वास्तव में आम जनता का कवि था। [2]

प्रारंभिक जीवन[संपादित करें]

हबीब जालिब का जन्म 24 मार्च 1928 को पंजाब के होशियारपुर में हुआ था। भारत के बंटवारे को हबीब जालिब नहीं मानते थे। लेकिन घर वालों की मोहब्बत में इन्हें पाकिस्तान जाना पड़ा। [3]

शायरी और कविता[संपादित करें]

तुमसे पहले जो इक शख्स यहां तख्तनशीं था
उसको भी अपने खुदा होने का इतना ही यकीं था..

राजनीतिक विचार[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]