हज्जाह प्रान्त

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
हज्जाह​
حجة‎ \ Hajjah
मानचित्र जिसमें हज्जाह​ حجة‎ \ Hajjah हाइलाइटेड है
सूचना
राजधानी : हज्जाह
क्षेत्रफल : १०,१४१ किमी²
जनसंख्या(२०१२):
 • घनत्व :
१८,११,३९४
 १७८.६२/किमी²
उपविभागों के नाम: ज़िले
उपविभागों की संख्या: ३१
मुख्य भाषा(एँ): अरबी


हज्जाह​ प्रान्त (अरबी: حجة‎, अंग्रेज़ी: Hajjah) यमन का एक प्रान्त है।[1][2]

सउदी अरब के साथ विवाद[संपादित करें]

१९२० के दशक में जब सउदी राजपरिवार अरबी प्रायद्वीप के मध्यवर्ती नज्द पठार से विस्तार करके पूरे प्रायद्वीप पर क़ब्ज़ा करने के प्रयास में जुटा था तो उनका टकराव यमनियों के साथ हुआ। १९३४ में यमन और सउदी अरब के बीच ताइफ़ शहर में 'ताइफ़ संधि' पर हस्ताक्षर किये गए। इसमें असीर क्षेत्र पर सउदी नियंत्रण मान लिया गया लेकिन अतिरिक्त इलाक़े यमन के पास ही रहे। कुछ सउदियों के अनुसार हज्जाह प्रान्त असीर का भाग है और सउदी अरब के पास होने चाहिए, लेकिन यमन इसे एक ग़लत धारणा ठहराता है।[3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. http://www.world-gazetteer.com Archived 4 दिसम्बर 2012 at Archive.is, Yemen, divisions
  2. Central Statistical Organisation of Yemen. General Population Housing and Establishment Census 2012 Final Results [1] Archived 21 मई 2013 at the वेबैक मशीन., Statistic Yearbook 2005 of Yemen [2] Archived 20 जून 2010 at the वेबैक मशीन.
  3. The Origins of Saudi-American Relations: from recognition to diplomatic representation (1931-1943), Dr. Fahad M. Al-Nafjan, pp. 78, Eman Al Nafjan, 2009, ISBN 9786030038534, ... In June 1934, the Treaty of Taif was concluded. Ibn Saud renounced conquests of undisputed Yemeni territory. The treaty was meant to strengthen Arab unity. Ibn Saud's foremost concern was to maintain peace with neighbors ...