हज्जाज बिन युसुफ़

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
الحجاج بن يوسف
हज्जाज बिन युसुफ़

अल-थ़काफ़ी

हज्जाज बिन युसुफ़ की मोहर
जन्म कुलैब बिन युसुफ़
जून के शुरुआत में, वर्ष ६६१ ईसवी / ४० हिजरी
ताइफ़, हिजाज़ क्षेत्र (आधुनिक सउदी अरब में)
मृत्यु ७१४ ईसवी / ९५ हिजरी
नस्ल अरब
व्यवसाय रक्षा मंत्री, राजनीतिज्ञ, प्रशासक व अध्यापक
जाने–जाते हैं उमय्यद ख़िलाफ़त का इराक़ का राज्यपाल
धर्म सुन्नी इस्लाम

अल-हज्जाज बिन युसुफ़ (अरबी: الحجاج بن يوسف, अंग्रेज़ी: Hajjaj bin Yusuf) इस्लाम के शुरूआती काल में उमय्यद ख़िलाफ़त का एक अरब प्रशासक, रक्षामंत्री और राजनीतिज्ञ था जो इतिहास में बहुत विवादित रहा है। वह एक चतुर और सख़्त​ शासक था, हालांकि अब कुछ इतिहासकारों का मत है कि उमय्यद ख़िलाफ़त के बाद आने वाले अब्बासी ख़िलाफ़त के इतिहासकार उमय्यादों से नफ़रत करते थे और हो सकता है उन्होंने अपनी लिखाईयों में अल-हज्जाज का नाम बिगाड़ा हो।[1]

हज्जाज उमय्यद सेनाओं के सिपहसालार चुनने में बहुत ध्यान देता था। उसने अरब सेनाओं में गहरा अनुशासन स्थापित किया और यह चीज़ उमय्यद काल में इस्लामी साम्राज्य के सबसे अधिक विस्तार का एक बड़ा कारण बनी। भारतीय उपमहाद्वीप के सिंध और पंजाब क्षेत्रों पर क़ब्ज़ा करने वाले मुहम्मद बिन क़ासिम को भी हज्जाज ही ने चुना था। उसने ज़ोर देकर उमय्यद साम्राज्य के सभी दस्तावेजों को अरबी भाषा में अनुवादित करवाया और ख़लीफ़ा अब्द अल-मालिक बिन मरवान को समझाकर मुस्लिम क्षेत्रों के लिए एक अलग मुद्रा बनवाई। इस वजह से सन् ६९२ में बीज़ान्टिन सल्तनत के राजा जस्टिनियन द्वितीय और उमय्यद ख़िलाफ़त के बीच 'सिबास्तोपोलिस का युद्ध' छिड़ गया जिसमें उमय्यादों की विजय हुई।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Historical Dictionary of Iraq, Edmund Ghareeb, Beth Dougherty, pp. 82, Scarecrow Press, 2004, ISBN 978-0-8108-4330-1, ... Hajjaj Bin Yusuf, Al- (660–714). A famous Arab military commander, political leader, and orator during the reign of Caliph 'Abd al-Malik (r. 685–705). He belonged to the tribe of Thaqif and grew up in al-Ta'if ...