स्वामी विज्ञानानन्द (सामाजिक कार्यकर्ता)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
स्वामी विज्ञानानन्द उर्फ रामशंकर मौर्य

स्वामी विज्ञानानन्द रामशंकर मौर्य उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के प्रसिद्ध धार्मिक एवं सामाजिक कार्यकर्ता हैं। स्वामी विज्ञानानन्द जी का पूर्व नाम रामशंकर मौर्य है। उनका आस्रम गंगा नदी के तट पर भिटौरा नामक स्थान पर स्थित है। उन्होने स्थानीय स्तर पर गंगा नदी को प्रदूषण मुक्त करने की पहल की है। स्वामी जी ने फतेहपुर जनपद में ससुरखदेरी नदी को पुनर्जीवित करने का सराहनीय कार्य भी किया है।

स्वामी विज्ञानानन्द जी का पूर्व नाम रामशंकर मौर्य है। गणेश पूजा और नवरात्रि के पश्चात गंगा में बहायी जाने वाली प्लास्टर ऑफ पेरिस की मूर्तियाँ तथा अन्य पूजा सामग्री जैसे फल, फूल इत्यादि प्रदूषण का एक बहुत बड़ा कारण हैँ। इसको मद्देनजर रखते हुये स्वामी विज्ञानानंद जी ने इस क्षेत्र में एक नई प्रथा की शुरूआत की और मूर्तियोँ का भूविसर्जन शुरु करवाया। आज मूर्तियोँ का भूविसर्जन फतेहपुर में एक आन्दोलन का रूप ले चुका है एवं अब लगभग ८०% मूर्तियोँ का भूविसर्जन ही किया जाता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]