स्वर्णकुमारी देवी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
स्वर्णकुमारी देवी
Swarnakumari Devi.jpg
स्वर्णकुमारी देवी
जन्म 28 अगस्त 1855
कोलकाता, अविभाजित भारत
मृत्यु 3 जुलाई 1932(1932-07-03) (उम्र 76)
कोलकाता,
राष्ट्रीयता भारतीय
व्यवसाय कवयित्री, उपन्यासकार, संगीतकार, सामाजिक कार्यकर्ता
जीवनसाथी जानकीनाथ घोषाल
बच्चे हिरण्यमयी देवी, सरलादेवी चौधुरानी, सर जोसना घोषाल

स्वर्णकुमारी देवी (बांग्ला: স্বর্ণকুমারী দেবী; 28 अगस्त 1855 – 3 जुलाई 1932) भारत की बांग्ला कवयित्री, उपन्यासकार, और सामाजिक कार्यकर्ता, थीं। [1][2] बंगाल के महिला लेखिकाओं में ख्याति प्राप्त करने वाली वे पहली महिला थीं।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Sengupta, Subodh Chandra and Bose, Anjali (editors), 1976/1998, Sansad Bangali Charitabhidhan (Biographical dictionary) Vol I, साँचा:Bn icon, pp. 609-610, ISBN 81-85626-65-0
  2. Devi Choudhurani, Indira, Smritisamput, साँचा:Bn icon, Rabindrabhaban, Viswabharati, pp.16-26.
  3. Banerjee, Hiranmay, Thakurbarir Katha, साँचा:Bn icon, p. 119, Sishu Sahitya Sansad.