स्वनिमिक लिपि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

स्वनिमिक लिपि (phonemic orthography) उस लिपि को कहते हैं जिसमें एक लिपिचिह्न (grapheme) एक निश्चित स्वनिम phoneme को निरूपित करता है। ब्राह्मी लिपि से व्युत्पन्न देवनागरी आदि लिपियाँ बहुत हद तक स्वनिमिक कही जा सकतीं हैं।