स्थाई मध्यस्थता न्यायालय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
स्थाई मध्यस्थता न्यायालय
Permanent Court of Arbitration
Cour permanente d'arbitrage
Permanent-Court-of-Arbitration-Members.svg
सदस्य देश (नीले व हरे रंगों में)
स्थापना १८९९
अधिकार क्षेत्र विश्वव्यापी, ११३ सदस्य राष्ट्र
स्थान हेग, नीदरलैंड
प्राधिकृत हेग शान्ति सम्मेलन
जालस्थल www.pca-cpa.org

स्थाई मध्यस्थता न्यायालय (अंग्रेज़ी: Permanent Court of Arbitration, पॅरमानेन्ट कोर्ट ऑफ़ आर्बिट्रेशन) नीदरलैंड के हेग शहर में स्थित एक अंतरराष्ट्रीय संस्थान है। इसकी स्थापना १८९९ के प्रथम हेग शान्ति सम्मेलन के बाद की गई थी। यह देशों, सरकारी संस्थाओं और निजि कम्पनियों के बीच होने वाले मतभेदों में मध्यस्थता करके उन्हें सुलझाने का प्रयास करता है। ध्यान दें कि यह अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय से अलग है हालांकि दोनों ही हेग में एक ही 'शान्ति भवन' (पीस पैलॅस) नामक इमारात में स्थित हैं।[1][2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Shabtai Rosenne, “The Hague Peace Conferences of 1899 and 1907 and International Arbitration: Reports and Documents”, T.M.C. Asser Press (2001), page xxi.
  2. Sir Kenneth Keith ONZ QBE QC, "Member of the Permanent Court of Arbitration" in Timothy L.H. McCormack & Cheryl Saunders, ed., Sir Ninian Stephen: A Tribute, Miegunnyah Press (2007), p. 174. See also Permanent Court of Arbitration 106th Annual Report, p.1, available at [1]