स्टैंडर्ड एंड पूअर्स

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
स्टैंडर्ड एंड पूअर्स
Standard & Poor's
प्रकार Division of The McGraw-Hill Companies
उद्योग वित्तीय सेवा
स्थापना 1860, present corporation status in 1941
मुख्यालय न्यूयॉर्क नगर, Flag of the United States.svg संयुक्त राज्य
प्रमुख व्यक्ति देवेन शर्मा (President)
राजस्व Green Arrow Up Darker.svg$2.61 billion USD (2009)[1]
वेबसाइट standardandpoors.com
मुख्यालय, 55 वॉटर स्ट्रीट

स्टैंडर्ड एंड पूअर्स (S&P) एक अमेरिकी वित्तीय सेवा कंपनी है। यह मॅकग्रा-हिल कंपनियों का प्रभाग है जो स्टॉक और बांड पर वित्तीय अनुसंधान और विश्लेषण प्रकाशित करता है। यह शेयर बाज़ार सूचकांक के लिए सुविख्यात है, अमेरिका स्थित S&P 500, ऑस्ट्रेलियाई S&P/ASX 200, कनाडाई S&P/TSX, इतालवी S&P/MIB और भारतीय S&P CNX निफ़्टी. यह तीन बड़ी साख श्रेणी-निर्धारण एजेंसियों (स्टैंडर्ड एंड पूअर्स, मूडीस इन्वेस्टर सर्विस और फिच रेटिंग्स) में से एक है।[2]

कार्पोरेट इतिहास[संपादित करें]

स्टैंडर्ड एंड पूअर्स का इतिहास 1860 में हेनरी वारनम पूअर के प्रकाशन हिस्ट्री ऑफ़ रेलरोड्स एंड कैनाल्स इन द यूनाइटेड स्टेट्स के साथ शुरू होता है। इस पुस्तक के माध्यम से अमेरिकी रेलरोड कंपनियों की वित्तीय और प्रचालनात्मक स्थिति के बारे में विस्तृत जानकारी संकलित करने का प्रयास किया गया था। हेनरी वारनम ने अपने बेटे हेनरी विलियम के साथ H.V. और H.W. पूअर कंपनी की स्थापना की और वार्षिक आधार पर इस पुस्तक के अद्यतन संस्करण प्रकाशित किए.

1906 में लूथर ली ब्लेक ने ग़ैर-रेलरोड कंपनियों की वित्तीय जानकारी प्रदान करने के उद्देश्य से स्टैंडर्ड स्टैटिस्टिक्स ब्यूरो की स्थापना की. एक वार्षिक पुस्तक प्रकाशित करने के बजाय स्टैंडर्ड स्टैटिस्टिक्स ने अधिक अद्यतनों को अनुमत करने के लिए, 5" x 7" कार्ड का उपयोग किया।

1941 में स्टैंडर्ड एंड पूअर्स कॉर्प. बनने के लिए, पूअर और स्टैंडर्ड स्टैटिस्टिक्स का विलय हुआ। तदनंतर, 1966 में द मॅकग्रा-हिल कंपनियों द्वारा S&P का अधिग्रहण किया गया और अब इसमें वित्तीय सेवाएँ प्रभाग शामिल है।[3]

साख श्रेणी-निर्धारण (क्रेडिट रेटिंग)[संपादित करें]

स्टैंडर्ड एंड पूअर्स, साख श्रेणी-निर्धारण एजेंसी (CRA) के रूप में सार्वजनिक और निजी निगमों के लिए क्रेडिट रेटिंग जारी करते हैं। यह अनेक CRA में से एक है जिसे अमेरिकी प्रतिभूति और विनिमय आयोग द्वारा राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त सांख्यिकीय साख-निर्धारण संगठन के रूप में परिकल्पित किया गया है।

यह अल्पकालिक और दीर्घकालिक दोनों साख श्रेणी निर्धारण (क्रेडिट रेटिंग) जारी करता है।

दीर्घकालिक साख श्रेणी निर्धारण[संपादित करें]

S&P उधारकर्ताओं को AAA से D के पैमाने पर आंकता है। AA और CCC के बीच प्रत्येक स्तर पर (उदा., BBB+, BBB और BBB-) मध्यवर्ती साख श्रेणियों की पेशकश की जाती है। कुछ उधारकर्ताओं के लिए, S&P यह जानने के लिए मार्गदर्शन भी उपलब्ध करा सकता है (जो "साख निगरानी" कहलाता है) कि क्या इसके कोटि उन्नयन (सकारात्मक), श्रेणी में गिरावट (नकारात्मक) या अनिश्चित (तटस्थ) होने की संभावना है।

निवेश दर्जा

  • AAA : सबसे अच्छी गुणवत्ता वाले उधारकर्ता, विश्वसनीय और स्थिर (इनमें से अधिकांश सरकारें)
  • AA : गुणवत्ता वाले उधारकर्ता, AAA की तुलना में कुछ उच्च जोखिम वाले. इनमें शामिल हैं:
    • AA+ : मूडीस और फ़िच Aa1 के बराबर
    • AA : Aa2 के बराबर
    • AA- : Aa3 के बराबर
  • A : आर्थिक स्थिति वित्त को प्रभावित कर सकती है
    • A+ : A1 के बराबर
    • A : A2 के बराबर
  • BBB : मध्यम वर्ग के उधारकर्ता, जो इस समय संतोषजनक है

ग़ैर-निवेश दर्जा (जो अत्यंत उच्च ब्याज वाले बांड के रूप में भी विख्यात है)

  • BB : अर्थव्यवस्था में परिवर्तिन से अधिक प्रभावित होने की संभावना वाले
  • B : वित्तीय स्थिति स्पष्टतः काफ़ी भिन्न
  • CCC : वर्तमान में कमज़ोर और अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करने के लिए अनुकूल आर्थिक परिस्थितियों पर निर्भर
  • CC : अत्यधिक संवेदनशील, बहुत ही संदिग्ध बांड
  • C : अत्यधिक असुरक्षित, संभवतः दिवालिया या बकाया लेकिन फिर भी दायित्वों का भुगतान करना जारी
  • CI : ब्याज पर विगत बकाया
  • R : अपनी वित्तीय स्थिति के कारण नियामक पर्यवेक्षण के अधीन
  • SD : कुछ दायित्वों पर चुनिंदा चूक
  • D : दायित्वों में चूक और S&P का मानना है कि वह आम तौर पर सभी दायित्वों में चूकेगा
  • NR : श्रेणी निर्धारण नहीं किया गया

अल्पकालिक निर्गम क्रेडिट रेटिंग[संपादित करें]

S&P विशिष्ट निर्गमों का A-1 से D पैमाने पर श्रेणी निर्धारण करता है। A-1 वर्ग के अंतर्गत यह एक धन चिह्न (+) से निर्दिष्ट किया जा सकता है। यह बताता है कि इस निर्गमकर्ता का अपने दायित्व को पूरा करने के प्रति प्रतिबद्धता अत्यधिक है। देश जोखिम और बाध्यताधारी द्वारा साख विश्लेषण में निर्गम दायित्व को पूरा करने की चुकौती अवधि को हिसाब में लिया जाता है और निर्गम में परिलक्षित होता है।

  • A-1 : बाध्यताधारी द्वारा अपने दायित्वों से संबंधित वित्तीय प्रतिबद्धता को पूरा करने की क्षमता मज़बूत है
  • A-2 : आर्थिक परिस्थितियों के प्रति संवेदनशील है, तथापि दायित्वों से संबंधित वित्तीय प्रतिबद्धताओं को पूरा करने की बाध्यताधारी की क्षमता संतोषजनक है।
  • A-3 : प्रतिकूल आर्थिक परिस्थितियां बाध्यताधारी की दायित्व से संबंधित वित्तीय प्रतिबद्धताओं को पूरा करने की क्षमता कमज़ोर कर सकती है
  • B : में महत्वपूर्ण अटकलबाज़ियों की विशेषताएं हैं। संप्रति बाध्यताधारी अपने वित्तीय दायित्वों को पूरा करने की क्षमता रखता है लेकिन सतत प्रमुख अनिश्चितताओं का सामना कर रहा है जो दायित्वों के संबंध में उसकी वित्तीय प्रतिबद्धताओं को प्रभावित कर सकती है।
  • C : वर्तमान में ग़ैर भुगतान की चपेट में और दायित्वों के संबंध में वित्तीय प्रतिबद्धताओं को पूरा करने के लिए बाध्यातधारी अनुकूल व्यापार, वित्तीय और आर्थिक परिस्थितियों पर निर्भर है।
  • D : भुगतान में चूक करने वालों में है। नियत तारीख को दायित्व पूरा नहीं किया जाता और अनुग्रह अवधि की समय-सीमा समाप्त नहीं हुई होगी. दर्जे का उपयोग दिवालिया याचिका के दाखिल होने के संबंध में भी होता है।

शेयर बाज़ार सूचकांक[संपादित करें]

स्टैंडर्ड एंड पूअर्स विश्व के प्रत्येक क्षेत्र, बाज़ार पूंजीकरण स्तर और निवेश प्रकार (उदा. REIT और अधिमानी स्टॉक) को आवृत करते हुए बड़ी संख्या में शेयर बाज़ार सूचकांक प्रकाशित करता है।

इन सूचकांकों में शामिल हैं:

  • S&P 500 - संयुक्त राज्य अमेरिका में सक्रिय रूप से व्यापारित अधिक-पूंजी वाले 500 सामान्य शेयरों के मूल्य भारित सूचकांक.
  • S&P 400 मध्यम-पूंजी सूचकांक
  • S&P 600 अल्प-पूंजी सूचकांक[4]

अभिशासन अंक (GAMMA)[संपादित करें]

GAMMA अंक मूल्य के संभाव्य अभिशासन-संबंधी हानि या मूल्य निर्माण में चूक के प्रति निवेशक की सुरक्षा के रूप में कंपनी के कार्पोरेट अभिशासन व्यवहार के सापेक्ष क्षमता के बारे में स्टैंडर्ड एंड पूअर की राय को प्रतिबिंबित करता है। GAMMA उभरते बाज़ारों में ईक्विटी निवेशकों के लिए परिकल्पित किया गया है और इसका ध्यान ग़ैर-वित्तीय जोखिम मूल्यांकन और विशेषकर, कंपनी अभिशासन जोखिम के निर्धारण पर केंद्रित है।

CGS और GAMMA अंकों का इतिहास[संपादित करें]

स्टैंडर्ड एंड पूअर्स ने 1998 से कंपनी अभिशासन का आकलन करने के लिए मानदंड और पद्धति विकसित की है और 2000 से कंपनियों के कार्पोरेट अभिशासन प्रथाओं का सक्रिय रूप से मूल्यांकन कर रहा है।

2007 में, समूह के अनुभव पर आधारित विश्लेषण पर जोखिम केंद्रण को मजबूत करने के लिए एकल अभिशासन विश्लेषण पद्धति की अच्छी तरह जाँच-पड़ताल की गई। GAMMA विश्लेषण असंख्य जोखिमों पर ध्यान केंद्रित करता है जिनकी संभाव्यता और शेयरधारक मूल्य पर प्रत्याशित प्रभाव में भिन्नता हो. तदनुसार, हमारा विश्लेषण अभिशासन कमियों के लिए उत्तरदायी संभाव्य मूल्य हानि के प्रति अधिक दोषपूर्ण क्षेत्रों का संकेत निर्धारित करना चाहता है। हाल के अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय बाज़ार के घटनाक्रम उद्यम जोखिम प्रबंधन की प्रासंगिकता और अभिशासन की गुणवत्ता के लिए रणनीतिक प्रक्रिया पर ज़ोर देते हैं। GAMMA कार्यप्रणाली में निवेशक की चिंताओं का समाधान प्रस्तुत करने वाले दो नए तत्व शामिल हैं। यह जोखिम प्रबंधन की संस्कृति और कंपनियों के बीच दीर्घावधिक रणनीतिक सोच को बढ़ावा देता है।

GAMMA वर्गीकरण घटक[संपादित करें]

  1. शेयरधारक प्रभाव
  2. शेयरधारक अधिकार
  3. पारदर्शिता, लेखा-परीक्षा और उद्यम जोखिम प्रबंधन (ERM)
  4. मंडल प्रभावशीलता, रणनीतिक प्रक्रिया और प्रोत्साहन

GAMMA पैमाना[संपादित करें]

GAMMA अंकों के लिए, स्टैंडर्ड एंड पूअर्स एक से 10 तक एक संख्यात्मक पैमाने का उपयोग करता है (जहां 10 सर्वोत्तम संभव अंक है). कंपनी के विवेक पर, GAMMA अंक सार्वजनिक रूप से या निजी तौर पर प्रसारित कर सकते हैं।

  • GAMMA-10 और GAMMA-9 - स्टैंडर्ड एंड पूअर की राय में, कंपनी की कार्पोरेट अभिप्रशासन प्रथाएं और प्रक्रियाएं मूल्य में संभावित अभिशासन संबंधी घाटे के प्रति बहुत मजबूत सुरक्षा प्रदान करती हैं। स्टैंडर्ड एंड पू्अर्स की राय में, इस तरह की अंकन श्रेणियों की कंपनी में अभिशासन विश्लेषण के किसी प्रमुख क्षेत्र में कुछ कमज़ोरियां हो सकती हैं।
  • GAMMA-8 और GAMMA-7 - स्टैंडर्ड एंड पूअर की राय में, कंपनी अभिशासन प्रथाएं और प्रक्रियाएं मूल्य में संभावित अभिशासन संबंधी घाटे के प्रति मजबूत सुरक्षा प्रदान करती हैं। स्टैंडर्ड एंड पूअर्स की राय में, इस तरह की अंकन श्रेणियों की कंपनी के अभिशासन विश्लेषण के प्रमुख क्षेत्रों में कुछ कमजोरियां हो सकती हैं।
  • GAMMA-6 और GAMMA-5 - स्टैंडर्ड एंड पूअर की राय में, कंपनी की अभिशासन प्रथाएं और प्रक्रियाएं मूल्य में संभावित अभिशासन संबंधी घाटे के प्रति मध्यम दर्जे की सुरक्षा प्रदान करती हैं। स्टैंडर्ड एंड पूअर्स की राय में, इस तरह की अंकन श्रेणियों की कंपनी के अभिशासन विश्लेषण के प्रमुख क्षेत्रों में कई कमज़ोरियां हो सकती हैं।
  • GAMMA-4 और GAMMA-3 - स्टैंडर्ड एंड पूअर्स की राय में, कंपनी अभिशासन प्रक्रियाएं और प्रथाएं संभावित अभिशासन संबंधी घाटे के प्रति कमज़ोर सुरक्षा प्रदान करती हैं। स्टैंडर्ड एंड पूअर्स की राय में, इस तरह की अंकन श्रेणियों की कंपनी के अभिशासन विश्लेषण के असंख्य प्रमुख क्षेत्रों में महत्वपूर्ण कमज़ोरियां मौजूद होती हैं।
  • GAMMA-2 और GAMMA-1 - स्टैंडर्ड एंड पूअर्स की राय में, कंपनी अभिशासन प्रक्रियाएं और प्रथाएं संभावित अभिशासन संबंधी घाटे के प्रति बहुत ही कमज़ोर सुरक्षा प्रदान करती हैं। इस तरह की अंकन श्रेणियों की कंपनी के विश्लेषण के अधिकांश क्षेत्रों में महत्वपूर्ण कमज़ोरियां मौजूद होती हैं।

प्रकाशन[संपादित करें]

स्टैंडर्ड एंड पूअर्स द आउटलुक नामक शेयर बाज़ार विश्लेषण न्यूज़लेटर लगभग-साप्ताहिक (वर्ष में 48 बार) आधार पर प्रकाशित करता है जो ग्राहकों को मुद्रित और ऑनलाइन, दोनों रूपों में जारी किया जाता है। स्टैंडर्ड एंड पूअर्स अभिशासन सेवाओं के विश्लेषक मासिक GAMMA न्यूज़लैटर जारी करते हैं जिसमें उभरते बाज़ारों में (BRIC और परे) कंपनी अभिशासन-संबंधी मामलों पर टिप्पणियां और दृष्टिकोण शामिल होते हैं।

आलोचना[संपादित करें]

CRA द्वारा शीर्ष साख निर्धारण दर्जा दिए जाने के बावजूद, संपार्श्विकृत ऋण बाध्यता (CDO) बाज़ार में 2007 के प्रारंभ में भारी नुक्सान के चलते, स्टैंडर्ड एंड पूअर्स जैसी क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों को आलोचनाओं का सामना करना पड़ा.

ऋणों के सबसे जोखिमपूर्ण समूहों को भी AAA क्रेडिट रेटिंग (उपलब्ध सर्वोच्च रेटिंग) दिए गए। AAA द्वारा संकेतित न्यून जोखिम प्रोफ़ाइल पर भरोसा करते हुए निवेशकों ने इन CDO पर लाद दिया जो बाद में विक्रय योग्य नहीं रहीं. वे जो बेची जा सकीं, उन पर अक्सर चौंकाने वाले स्तर तक नुक्सान उठाना पड़ा. उदाहरण के लिए, क्रेडिट सुइस समूह द्वारा जारी $340.7 बिलियन मूल्य के CDO पर नुक्सान बढ़ कर $125 मिलियन तक हो गया, हालांकि स्टैंडर्ड एंड पूअर्स से उन्हें AAA का दर्जा मिला था।[5]

आम धारणा के बावजूद, स्टैंडर्ड एंड पूअर्स ने आइसलैंड के दो प्रमुख बैंक, कौपुथिंग और लैंड्सबैंकी को दर्जा नहीं दिया.[कृपया उद्धरण जोड़ें]

कंपनियां स्टैंडर्ड एंड पूअर्स को अपने ऋण मामलों के निर्धारण के लिए बहुत कम पैसा अदा करती हैं। इसके परिणामस्वरूप, कुछ आलोचकों का तर्क है कि स्टैंडर्ड एंड पूअर्स इन निर्गमकर्ताओं के केवल दर्शक मात्र हैं और इनकी साख का श्रेणी-निर्धारण उतने वस्तुनिष्ठ नहीं हैं, जितने कि होने चाहिए.

अप्रैल 2009 में स्टैंडर्ड एंड पूअर्स ने आयरिश सरकार में "नए चेहरों" की मांग की, जिसे लोकतांत्रिक प्रक्रिया में हस्तक्षेप के रूप में देखा गया. बाद में एक बयान में उन्होंने कहा कि उन्हें 'ग़लत समझा' गया था।[6]

27 अप्रैल 2010 को यूनानी ऋण श्रेणी-निर्धारण को ग्रीक सरकार द्वारा चूक के अंदेशों के बीच 'निम्न श्रेणी' का दर्जा दिया गया.[7] 28 अप्रैल 2010 को पुर्तगाल के राज्य ऋण और सार्वजनिक वित्त के बारे में चिंताओं के मद्दे नज़र, उन्होंने पुर्तगाल की क्रेडिट रेटिंग को भी दो दर्जा घटाकर A कर दिया.[8]

अविश्वास समीक्षा[संपादित करें]

नवंबर 2009 में, एक जांच शुरू करने के दस महीने बाद, यूरोपीय आयोग ने औपचारिक रूप से स्टैंडर्ड एंड पूअर्स पर, यूरोपीय वित्तीय फर्मों और डेटा विक्रेताओं को उनके उपयोग के लिए लाइसेंसिग शुल्क की अदायगी अनिवार्य करते हुए, अमेरिकी प्रतिभूतियों के लिए एकमात्र अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभूति पहचान कोड प्रदाता के रूप में अपने पद के दुरूपयोग का आरोप लगाया. यूरोपीय आयोग ने अपने आपत्तियों के बयान में कहा कि "यह व्यवहार अनुचित मूल्य के बराबर" है, जो S&P के खिलाफ़ एक प्रतिकूल जांच परिणाम का आधार प्रस्तुत करता है।"(संख्या) वित्तीय संस्थानों द्वारा संचालित असंख्य प्रचालनों के लिए अपरिहार्य हैं - उदाहरण के लिए प्राधिकारियों को रिपोर्टिंग या समाशोधन व निपटान - और कोई इनको प्रतिस्थापित नहीं किया जा सकता."[9]

S&P ने अमेरिकन बैंकर्स एसोसिएशन की ओर से CUSIP सेवा ब्यूरो चलाया है, जो अमेरिका में ISIN का एकमात्र जारीकर्ता है। अपने आपत्तियों के औपचारिक बयान में यूरोपीय आयोग ने आरोप लगाया कि S&P वित्तीय सेवा कंपनियों और सूचना सेवा प्रदाताओं को अमेरिकी ISIN के इस्तेमाल के लिए लाइसेंस शुल्क का भुगतान करने के लिए मजबूर करते हुए इस एकाधिकार स्थिति का दुरूपयोग कर रहा है। उसका दावा है कि दुनिया में कहीं और तुलनीय एजेंसियों के पास या तो कोई प्रभार शुल्क नहीं है, या उपयोग के बजाय, वितरण लागत के आधार पर शुल्क प्रभारित करते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • ए.एम. बेस्ट
  • ब्लूमबर्ग एल.पी.
  • कैपिटल आईक्यू
  • कंप्यूस्टैट
  • क्रिसिल
  • डोमिनियन बांड रेटिंग सेवा
  • फ़िच रेटिंग
  • वैश्विक उद्योग वर्गीकरण मानक
  • उत्तोलक व्याख्या एवं आंकडे
  • मूडीस
  • मूडीस विश्लेषिकी
  • मॉर्निंगस्टार इंक
  • राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त सांख्यिकी साख निर्धारण संगठन
  • रॉयटर्स

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. [1] Archived 16 अगस्त 2011 at the वेबैक मशीन. Standard & Poor's, Key Statistics
  2. "संग्रहीत प्रति". मूल से 1 नवंबर 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 फ़रवरी 2011.
  3. "A History of Standard & Poor's". मूल से 18 जनवरी 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि May 9, 2007.
  4. "S&P SmallCap 600 -- Overview". Standard and Poors. मूल से 22 जुलाई 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2009-06-29.
  5. Tomlinson, Richard; Evans, David (2007-06-01). "CDOs mask huge subprime losses, abetted by credit rating agencies". International Herald Tribune. मूल से 19 अगस्त 2007 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 फ़रवरी 2011.
  6. आयरिश राष्ट्रीय समाचार Archived 11 जुलाई 2011 at the वेबैक मशीन. 1 अप्रैल 2009.
  7. "ग्रीक ऋण श्रेणी-निर्धारण में निम्न स्तर तक गिरावट" Archived 3 मई 2010 at the वेबैक मशीन., न्यूयॉर्क टाइम्स, 27 अप्रैल 2010.
  8. "ग्रीस संकट: आशंका बढ़ रही है कि यह फैल सकता है", बीबीसी समाचार.
  9. . Securities Technology Monitor, संपा॰ (2009). "EC Charges S&P With Monopoly Abuse" (अंग्रेज़ी में). मूल से 16 जुलाई 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 फ़रवरी 2011.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]