स्कॉटलैंड का कलीसिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
चित्र:Church of Scotland.svg
चर्च ऑफ़ स्कॉटलैंड का लोगो

चर्च ऑफ़ स्कॉटलैंड (स्कॉट्स : The Scots Kirk, गैलिक : Eaglais na h-Alba) यानी स्कॉटलैंड का कलीसिया, जिसे अनौपचारिक रूप से इसके स्कॉट्स भाषा के इसके नाम, "कर्क" से जाना जाता है, स्कॉटलैंड की राष्ट्रीय गिरजा है।[1] यह एक प्रोटेस्टेंट और प्रेस्बिटेरियन चर्च है। इसके "आस्था के पदार्थ में विघ्न न डालने वाले मुद्दुओं पर पक्ष व राय की स्वतंत्रता" के कारण यह चर्च, विभिन्न धार्मिक पदों के प्रति सहिष्णुत है, जिनमें वे लोग भी शामिल हैं जो स्वयं को रूढ़िवादी या उदारवादी के रूप में अपने सिद्धांत, नैतिक और पवित्रशास्त्र की व्याख्या में कहते हैं।

चर्च ऑफ स्कॉटलैंड की जड़ें स्कॉटलैंड में ईसाई धर्म की शुरुआत से ही खोजी जा सकती हैं, लेकिन इसकी वर्त्तमान पहचान मुख्य रूप से 1560 के सुधार के द्वारा आकार में आई है।दिसंबर 2013 तक, इसकी प्रतिज्ञाधारी सदस्यता 3,98,389 थी, जो स्कॉटलैंड की कल् आबादी का लगभग 7.5% है।[2] इसके विरुद्ध, 2015 के स्कॉटिश वार्षिक घरेलू सर्वेक्षण के अनुसार, स्कॉटिश आबादी का इससे बहुत अधिक, 25.3%, यानी 14 लाख अनुयायी, इस चर्च के प्रति किसी तरह के निष्ठा का दावा करते हैं। 2011 की जनगणना में 32.4% लोगों ने इस चर्च के प्रति निष्ठा का दावा किया।[3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Queen and the Church, royal.gov.uk. Retrieved 5 July 2015. Archived 7 जुलाई 2015 at the Wayback Machine
  2. "Church of Scotland 'struggling to stay alive'". scotsman.com. मूल से 5 अक्तूबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 30 सितंबर 2017.
  3. Scotland’s People Annual Report: Results from the 2015 Scottish Household Survey Archived 2017-10-09 at the Wayback Machine Scottish Government: National Statisticks

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]