सोमेश्वर द्वितीय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सोमेश्वर द्वितीय (तराज्यकाल  1068 – 1076 ई.), सोमेश्वर प्रथम का सबसे बड़ा पुत्र तथा पश्चिमी चालुक्य राजवंश का शासक था। अपने पिता बाद वह गद्दी पर बैठा। अपने पिता के शासनकाल में वह गडग के आसपास के क्षेत्रों का प्रशासन देखता था।

अपने शासनकाल में वह अपने छोटे भाई विक्रमादित्य षष्ठ से लगातार चुनौती पाता रहा जो अत्यन्त महत्वाकांक्षी था। अन्ततः विक्रमादित्य ने १०७६ ई में उसे पराजित कर शासन अपने हाथ में ले लिया।