सोनपुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र, बिहार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
122 सोनपुर
विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र
122 सोनपुर की बिहार के मानचित्र पर अवस्थिति
122 सोनपुर
122 सोनपुर
Location in Bihar
निर्देशांक: 25°42′N 85°11′E / 25.700°N 85.183°E / 25.700; 85.183निर्देशांक: 25°42′N 85°11′E / 25.700°N 85.183°E / 25.700; 85.183
देश भारत
राज्यबिहार
जिलासारण
विधानसभा क्रमांक122
TypeOpen
लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र20. सारण
मतदान प्रक्रियाफर्स्ट पास्ट द पोस्ट

बिहार की राजधानी पटना के उत्तर सारण लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र के 6 विधानसभाओं में से एक विधानसभा है सोनपुर । सोनपुर विधानसभा क्षेत्र का गठन 1952 में हुआ।[1] राष्ट्रीय जनता दल के रामानुज प्रसाद राय यहां के विधायक हैं। भारतीय जनता पार्टी नेता राजीव प्रताप रूडी यहां के सांसद हैं।

अवलोकन[संपादित करें]

सोनपुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र, बिहार

संसदीय और विधानसभा क्षेत्रों के आदेश के अनुसार आदेश, 2008, संख्या 122 सोनपुर (विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र) निम्नलिखित में से बना है: सोनपुर प्रखंड (सारण) और दिघवारा प्रखण्ड (सारन)। 2008 के परिसीमन में सारण के सभी विधानसभा क्षेत्रों का स्वरूप बदला, लेकिन सोनपुर का भूगोल पूर्ववत रह गया। सोनपुर विधानसभा क्षेत्र में 33 ग्राम पंचायतें व दो नगर पंचायत क्षेत्र हैं। सोनपुर के 23 व दिघवारा के 10 पंचायत के साथ सोनपुर नगर पंचायत के 21 व दिघवारा के 18 वार्ड इस विधानसभा क्षेत्र में हैं।

सोनपुर (विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र) नंबर 20 सारण लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र का हिस्सा है। यह पहले छपरा (लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र) का हिस्सा था। 2011 की जनगणना के अनुसार इस विधानसभा की कुल आबादी 354373 है। यहां 2,81,283 वोटर हैं। इनमें से 1,50,983 पुरुष, 1,30,299 महिला और 1 थर्ड जेंडर का मतदाता है। बिहार के पूर्व सीएम रामसुंदर दास, लालू प्रसाद यादव और डिप्टी सीएम रामजयपाल सिंह यादव यहां के विधायक रहे हैं।[2]

चुनाव परिणाम[संपादित करें]

1977-2015[संपादित करें]

बिहार विधान सभा चुनाव,२०१५ में, डॉ रामानुज प्रसाद (आरजेडी) ने बीजेपी के विनय कुमार सिंह को हराया। 2010 के विधानसभा चुनावों में, बीजेपी के विनय कुमार सिंह ने राजस्थान विधानसभा सीट जीजेपी के अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी राबड़ी देवी को हराया।[3][4] अधिकांश वर्षों में प्रतियोगिताओं में बहुसंख्यक थे लेकिन केवल विजेताओं और धावकों का उल्लेख किया जा रहा है।

आरजेडी के रामानुज प्रसाद ने अक्टूबर 2005 और फरवरी 2005 में बीजेपी के विनय कुमार सिंह को हराया। बीजेपी के विनय कुमार सिंह ने 2000 में आरजेडी के रामानुज प्रसाद को हराया। जेडी के राज कुमार राय ने 1995 और 1 99 0 में कांग्रेस के बिरेन्द्र नारायण सिंह को हराया। एलडी के लालू प्रसाद 1985 में कांग्रेस के राज नारायण सिंह को हराया। जनता पार्टी के लालू प्रसाद (सेक्युलर - चरण सिंह) ने 1980 में कांग्रेस के जवाहर प्रसाद सिंह को हराया। जनता पार्टी के रामसुंदर दास ने 1977 में स्वतंत्र रामेश्वर प्रसाद राय को हराया।[5] 1960 और 1970 के दशक में राम जयपाल सिंह यादव को सोनपुर से कई बार चुना गया था।[6]

अबतक चुने गये विधायक[संपादित करें]

  • 1952  : जगदीश शर्मा (कांग्रेस)
  • 1957  : रामविनोद सिंह (निर्दलीय)
  • 1962  : शिव बचन सिंह (कम्युनिस्ट)
  • 1967-72 :रामजयपाल सिंह यादव (कांग्रेस)
  • 1977  : रामसुंदर दास (जनता पार्टी)
  • 1980-85 :लालू प्रसाद यादव (जद एस-लोकदल)
  • 1990-95: राज कुमार राय (जनता दल)
  • 2000  : विनय कुमार सिंह (बीजेपी)
  • 2005  : डॉ. रामानुज प्रसाद (राजद)
  • 2010  : विनय कुमार सिंह (बीजेपी)
  • 2015  : डॉ. रामानुज प्रसाद (राजद)
  • 2020  : डॉ. रामानुज प्रसाद (राजद)

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "सोनपुर विधानसभा क्षेत्र: इस सीट ने लालू को दिया ठौर तो राबड़ी को चखाया पराजय का स्वाद".
  2. "Bihar Assembly Election 2020: दो CM देने के बावजूद विकास की बाट जोह रहा है सोनपुर".
  3. "RJD Mobbed: Rabri Devi Loses Both Her Seats". मूल से 12 जून 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 10 जून 2018.
  4. "Rabri loses in both seats".
  5. "जयंती पर श्रद्धा से याद किए गए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री रामसुंदर दास".
  6. "The scary messages from the Saran riots". मूल से 7 अगस्त 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 अगस्त 2018.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]