सैफ़ई

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(सैफई से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search
सैफ़ई
शहर
उपनाम: सैफई गाँव
देशFlag of India.svg भारत
राज्यउत्तर प्रदेश
जिलाइटावा जिला
शासन
 • प्रणालीग्राम पंचायत
 • ग्राम प्रधानदर्शन सिंह यादव[1]
 • विधायक (जसवंतनगर क्षेत्र)शिवपाल सिंह यादव (समाजवादी पार्टी)
 • संसद (मैनपुरी क्षेत्र)मुलायम सिंह यादव (समाजवादी पार्टी)
जनसंख्या (2011)
 • कुल7,141
समय मण्डलआइएसटी (यूटीसी+5:30)
पोस्टल इंडेक्स नंबर206130
वेबसाइटetawah.nic.in

सैफ़ई (अंग्रेजी: Saifai), उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में स्थित एक कस्बा है। यह इटावा जिले की एक तहसील और विकास खंड भी है। यह मुलायम सिंह यादव, समाजवादी पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष, निवर्तमान रक्षा मंत्री और निवर्तमान मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश का जन्मस्थान भी है।

स्थिति[संपादित करें]

सैफ़ई, मैनपुरी और इटावा के बीच स्थित है। इसके और मैनपुरी के बीच की दूरी 33 किलोमीटर है और इटावा से इसकी दूरी 20 किलोमीटर है।

तहसील और विकास खंड[संपादित करें]

सैफ़ई, उत्तर प्रदेश के इटावा जिले की एक तहसील और विकास खंड(ब्लॉक) भी है। सैफ़ई विकास खंड में लगभग 60 गाँव आते है। सैफई विकास खंड जसवंतनगर विधानसभा क्षेत्र और मैनपुरी लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आता है लेकिन यह इटावा जिले का एक हिस्सा है।

शैक्षिक संस्थान[संपादित करें]

विश्वविद्यालय[संपादित करें]

उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय
  • उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय (पूर्व में उत्तर प्रदेश ग्रामीण आयुर्विज्ञान एवं अनुसंधान संस्थान), सैफ़ई (इटावा) मे उत्तर प्रदेश सरकार के विधयक,15 वर्ष 2016 द्वारा स्थापित एक विश्वविद्यालय है। विश्वविद्यालय के आधीन मेडिकल कॉलेज, पैरामैडिकल कॉलेज , नर्सिंग कॉलेज, फार्मेसी कॉलेज चल रहे हैं साथ मे 850 बिस्तर वाला मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल, ट्रामा एवं बर्न सेंटर भी कार्यरत है। इसके अतिरिक्त 650 करोड़ के बजट के साथ एक 500 बिस्तरों वाले सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का कार्य भी उत्तर प्रदेश सरकार द्वार प्रारम्भ करा दिया गया है।[2]

स्कूल और कॉलेज[संपादित करें]

  • फार्मेसी कालेज सैफई, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित इकलौता सरकारी फार्मेसी कालेज।
  • चौधरी चरण सिंह पी॰जी॰ कालेज, हैंवरा(सैफई), इटावा या चौधरी चरण सिंह डिग्री कॉलेज मे विज्ञान, कला, वाणिज्य, कंप्यूटर, प्रबंधन, शिक्षा और शारीरिक शिक्षा संकायों में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की पढ़ाई होती है। यह कॉलेज सैफई विकास खंड के हेंवरा गाँव मे स्थित है जो सैफई गाँव का पड़ोसी गाँव है। यह कॉलेज छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय (पूर्व में कानपुर विश्वविद्यालय) से संबद्ध है।
  • मेजर ध्यान चन्द स्पोर्ट्स कालेज, सैफई की स्थापना शासन द्वारा वर्ष 2014-15 मे सैफई (इटावा)की गयी है| आवासीय संख्या होने के कारण इसका समस्त भार शासन द्वारा वहन किया जाता है। इस कालेज में बालक वर्ग मे क्रिकेट, फुटबाल, हाकी, कुश्ती, एथलेटिक्स, बैडमिन्टन, तैराकी, एवं कबड्डी खेलों में प्रशिक्षण के साथ-साथ प्रदेश के शिक्षा विभाग द्वारा एवं उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम में कक्षा06 से 12 तक शिक्षण की व्यवस्था की गयी है। स्पोर्टस कालेज, सैफई मे कुल 560 प्रशिक्षार्थियों की संख्या निर्धारित है| वर्तमान वर्ष मे 74 प्रशिक्षार्थी अध्ययनरत है|
  • एस॰एस॰ मेमोरियल एजुकेशनल एकेडमी, सैफई मे स्थित एक निजी बीटीसी कॉलेज है। 2012 मे इस्थापित इस कॉलेज मे हर साल 50 छात्र बीटीसी की पढ़ाई के लिए दाखिला लेते है।
  • चौधरी चरण सिंह विधि महाविद्यालय, हैंवरा-सैफई, इटावा छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय (पूर्व में कानपुर विश्वविद्यालय) से संबद्ध एक विधि महाविद्यालय है।
  • एस॰ एस॰ मेमोरियल सीनियर सेकेंडरी पब्लिक स्कूल, सैफई, इटावा एक अंग्रेजी माध्यम का स्कूल है। यह स्कूल सीबीएसई, नई दिल्ली से संबद्ध है और एनसीईआरटी द्वारा प्रकाशित पुस्तके यहाँ छठी कक्षा से पढ़ाई जाती है।
  • अमिताभ बच्चन राजकीय इंटर कॉलेज, सैफई, जिला इटावा, उत्तर प्रदेश में स्थित राज्य सरकार द्वारा संचालित राजकीय इंटर कॉलेज है जिसकी स्थापना 1997 मे हुई थी।
  • राजकीय बालिका इंटर कॉलेज, सैफई, जिला इटावा, उत्तर प्रदेश में स्थित राज्य सरकार द्वारा संचालित एक बालिकाओ का राजकीय इंटर कॉलेज है।

परिवहन[संपादित करें]

सड़क[संपादित करें]

सैफई गाँव एक चार लेन के राज्य राजमार्ग (एसएच 83) द्वारा मैनपुरी और इटावा से जुड़ा हुआ है। सैफई के पास से गुजरने वाला आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे इसे दिल्ली, आगरा, फिरोजाबाद, कन्नौज और लखनऊ से कम समय मे जोड़ता है। सैफई में उतर प्रदेश परिवहन निगम (रोडवेज) का बस स्टेंड भी है जिसमें सभी प्रमुख शहरों को बस सेवा उपलब्ध है।

हवाई अड्डा[संपादित करें]

सैफई में एक हवाई पट्टी स्थित है। यहा से केवल चार्टर्ड उड़ानों का संचालन होता है।

2015 में भारतीय वायु सेना के मिराज 2000 विमान ने एक युद्ध की तरह आपात स्थिति के मामले में इस हवाई अड्डे के संभावित विकास के लिए आधार का परीक्षण किया था।[3]

रेल[संपादित करें]

मैनपुरी और इटावा के मध्य रेलवे लाइन है जो सैफई से गुजरती है।[4]

2011 की जनगणना[संपादित करें]

2011 की जनगणना के अनुसार, सैफई कुल 1481 परिवारों के साथ इटावा जिले, उत्तर प्रदेश में स्थित एक बड़ा गांव है। जनगणना के अनुसार यहा की कुल आबादी 7141 है जिसमे से 3917 पुरुष तथा 3224 महिलाएं हैं।

सैफई में उत्तर प्रदेश की तुलना में उच्च साक्षरता दर है। 2011 में, सैफई गांव की साक्षरता दर उत्तर प्रदेश के 67.68% की तुलना में 82.44% थी। महिला साक्षरता दर 74.00% थी, जबकि सैफई में पुरुष साक्षरता 89.27% है।

स्टेडियम[संपादित करें]

सैफई मे हरियाणा के पहलवान चंदगी राम के नाम पर बना मास्टर चंदगी राम स्पोर्ट्स स्टेडियम नामक एक अंतरराष्ट्रीय स्तर का हांकी स्टेडियम है जो कई राष्ट्रीय स्तर के हाकी टूर्नामेन्टो का मेजबान रह चुका है। इस परिसर में एक बैडमिंटन हाल और तरणताल भी है।

इसके अतिरिक्त अन्तर्राष्ट्रीय क्रीड़ा संकुल नाम से एक अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम भी सैफई में है। इस संकुल के परिसर में क्रिकेट के साथ आल-वेदर स्वीमिंगपूल (तरणताल), एथलेटिक्स स्टेडियम एवं इनडोर स्टेडियम भी मौजूद हैं।

सैफई महोत्सव[संपादित करें]

सैफई महोत्सव एक वार्षिक विवादास्पद महोत्सव था जिसका आयोजन 1997 से 2015 तक हर साल होता था। यह हिन्दी फिल्मो के सितारो के प्रतिभाग की वजह से अखबारो की सुर्ख़ियो मे रहता था।

उल्लेखनीय व्यक्ति[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "74 वर्षीय दर्शन सिंह यादव एक बार फिर सैफ़ई गांव से निर्विरोध प्रधान चुन लिए गए।". अमर उजाला. नवम्बर 26, 2015.
  2. "रिम्स सैफई बना आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय". अमर उजाला. जून 6, 2016.
  3. "Mulayam's Saifai plays host to fighter planes". THE TIMES OF INDIA (अंग्रेज़ी में). अगस्त 19, 2015.
  4. "लंबा सफर मैनपुरी से इटावा नहीं पहुंची ट्रेन". Live हिन्दुस्तान. अप्रैल 2, 2014.