सेडनोई

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
प्रथम तीन ज्ञात सेडनोई वस्तुओं की कक्षाएँ - नेप्ट्यून की 30 खइ की कक्षा नीले रंग में दर्शाई गई है

सेडनोई (sednoid) हमारे सौर मंडल की ऐसी कोई वरुण-पार वस्तु होती है जिसका उपसौर 50 खइ से अधिक और अर्धदीर्घ अक्ष 150 खइ से अधिक हो। अक्तूबर 2018 में ऐसी केवल तीन वस्तुएँ ज्ञात थीं - 90377 सेडना, 2012 वीपी113, और 2015 टीजी387, जिन सभी का उपसौर 64 खइ से अधिक था। कुछ खगोलशास्त्रियों के अनुसार सेडनाई भीतरी और्ट बादल का भाग हैं, जिसे पहले सूरज से 2,000 खइ से अधिक दूर माना जाता था।[1][2][3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Trujillo, Chadwick A; Sheppard, Scott S. (2014). "A Sedna-like body with a perihelion of 80 astronomical units" (PDF). Nature. 507 (7493): 471&ndash, 474. PMID 24670765. डीओआइ:10.1038/nature13156. बिबकोड:2014Natur.507..471T. मूल से 2014-12-16 को पुरालेखित (PDF).
  2. Sheppard, Scott S।. "Known Extreme Outer Solar System Objects". Department of Terrestrial Magnetism, Carnegie Institution for Science. अभिगमन तिथि 2014-04-17.
  3. "JPL Small-Body Database Search Engine: a > 150 (AU) and q > 50 (AU) and data-arc span > 365 (d)". JPL Solar System Dynamics. अभिगमन तिथि 2014-10-15.