सेंट मैरी रोमन कैथोलिक चर्च

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सेंट मैरी रोमन कैथोलिक चर्च
St Mary's Roman Catholic Church

सेंट मैरी रोमन कैथोलिक चर्च

51°48′44.3″N 2°42′47.1″W / 51.812306°N 2.713083°W / 51.812306; -2.713083निर्देशांक: 51°48′44.3″N 2°42′47.1″W / 51.812306°N 2.713083°W / 51.812306; -2.713083
देशवेल्स
संप्रदायरोमन कैथोलिक
वेबसाइटmonmouth-catholic.org
वास्तुकला
वास्तुकारबेंजामिन ब्कनोल
पादरी
पुजारीफादर निकोलस जेम्स

सेंट मैरी रोमन कैथोलिक चर्च (अंग्रेज़ी: St Mary's Roman Catholic Church) एक ईसाई धर्म के रोमन कैथोलिक सम्प्रदाय का गिरजाघर है जो सेंट मैरी स्ट्रीट, मॉनमाउथ, वेल्स, के केंद्र के नजदीक मौजूद है। यह गिरजाघर यूरोपीय धर्मसुधार के बाद वेल्स में अनुमित पहला रोमन कैथोलिक पूजा का सार्वजनिक स्थल था। चर्च का स्थापत्य बाद के जॉर्जियाई रोमन कैथोलिक गिरजाघरों का है, जिसमें बाद में कैथोलिक धर्मांतरित वास्तुकार बेंजामिन ब्कनोल द्वारा विक्टोरियन परिवर्धन भी किए।[1] गिरजाघर 15 अगस्त 1974 से ग्रेड द्वितीय सूचीबद्ध इमारत है तथा मॉनमाउथ हेरिटेज ट्रेल के 24 स्थलों में से एक है।[2]

इतिहास[संपादित करें]

सोलहवीं सदी के पश्चात मॉनमाउथ रेकासेंसि का केंद्र था।[3] 1773 में शहर इंग्लैंड और वेल्स में उच्चतम अनुपात वाले कैथोलिक शहरों में से एक था।[4] 1778 में कैथोलिक अनुयायियों के प्रति दांडिक कानूनों को ढीला कर दिया गया था। मॉनमाउथ मजिस्ट्रेटों के समक्ष एक याचिका दायर करके शहर में सार्वजनिक कैथोलिक चैपल का निर्माण करने की अनुमति माँगी गई थी। याचिकाकर्ताओं में से एक मोंनो स्ट्रीट पे स्थित रॉबिन हुड सराय के मालिक माइकल वॉटकिंस भी थे। रॉबिन हुड सराय में ही ऊपर के कमरे में जब तक मास आयोजित किया जाता था।[5][6] बाद में चैपल के निर्माण की अनुमति तो मिल गई परन्तु फिर स्थानीय कानून की जटिलताएँ सामने आई, जिसमें कैथोलिक और उन प्रोटेस्टैंट ईसाइयों जो चर्च ऑफ इंग्लैंड के अभिशासन को स्वीकार नहीं करते थे उनकी इमारतों को जितना संभव ही सके उतना अगोचर बनाए जाने का उद्देश्य होता था।[4][3] ऐसी स्थिति में यह स्वीकार करना पड़ा कि इमारत गिरजाघर जैसी न लगे। प्रवेश करने के लिए राजमार्ग की तरफ से आने की अनुमति नहीं थी और कैथोलिक उपासकों को एक बार में एक ही को चैपल के अंदर आना पड़ता था। मूलतः गिरजाघर बड़ी चतुराई से कॉटेजो की एक पंक्ति के द्वारा सड़क से छुपा दिया गया था। बाद में जब कैथोलिक अनुयायियों के प्रति भेदभाव खत्म हों गया तब ब्कनोल के गिरजाघर के पुनर्निर्माण के दौरान कॉटेजो को गिरा दिया गया था।[6]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. न्यूमैन, जॉन, The Buildings of Wales: Gwent/Monmouthshire, पेंगुइन बुक्स, 2000, ISBN 0-14-071053-1, प॰ 398
  2. "Church of St. Mary R C, Monmouth". britishlistedbuildings.co.uk. अभिगमन तिथि 28 मई 2012.
  3. किस्सॅक, कीथ, Nonconformity in Monmouth. capeli.org.uk.. Capel: The Chapels Heritage Society Newsletter, न॰ 29, 1997
  4. स्नॅल, के॰डी॰एम॰ (2000). Rival Jerusalems: the geography of Victorian religion. कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस. पृ॰ 249. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-521-77155-9.
  5. किस्सॅक, कीथ, Monmouth and its Buildings, लॉगस्टन प्रेस, 2003, ISBN 1-904396-01-1, p.79
  6. मॉनमाउथ सिविक सोसायटी, Monmouth Heritage Blue Plaque Trail, n.d., प॰ 18