सेंगे खबब

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(सेंगेखबब से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search

सेंगे खबब (तिब्बती: སེང་གེ་ཁ་འབབ་, अंग्रेज़ी: Senge Khabab) या सेंगे त्संगपो (Senge Tsangpo) तिब्बत के न्गारी विभाग में स्थित एक नदी है जो महान सिन्धु नदी का स्रोत भी मानी जाती है। यह नदी कैलाश पर्वत की उत्तरी तरफ़ से उत्पन्न होती है।[1] १९५० के दशक में जनवादी गणतंत्र चीन ने तिब्बत पर नियंत्रण कर लिया और तब से चीनी सरकार इस नदी को सेंगे ज़ंगबो (Sênggê Zangbo) और शीचुआन नदी (Shīquán Hé, 獅泉河) के नामों से भी बुलाती है।

नामोत्पत्ति[संपादित करें]

तिब्बती भाषा में 'सेंगे ख बब' का मतलब 'सिंह मुख नदी' है, यानि सिंह के मुख से निकलने वाली नदी। ध्यान दें कि तिब्बत व भारत की बहुत-सी महत्वपूर्ण नदियों की स्रोत-धाराओं के नाम हिन्दूबौद्ध आस्थाओं में धार्मिक महत्व रखने वाले जानवरों पर पड़े हैं:[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Holy Mount Kailash: A Pilgrimage in Tibet, Milan P Rakocevic, pp. 152, AuthorHouse, 2013, ISBN 9781481796729, ... The northern side of Kailash is where the Senge Kha Bab, or Lion Mouth River, originates. Better known as the Indus, this river is one of the largest in the world. It is 2900 kilometres long and has a large number of tributaries, irrigating a vast area of what would otherwise be desert land ...
  2. Sacred Water: The Spiritual Source of Life, Nathaniel Altman, pp. 198, Paulist Press, 2002, ISBN 9781587680137, ... The rivers represent individual sacred animals that are throne symbols to four of the Dhyana Buddhas. They include the sacred Brahmaputra, or Tamchog Khambab (the river flowing out of the horse's mouth), the Sutlej, or Langchen Khambab (the river flowing out of the elephant's mouth), the Indus, or Senge Khambab (the river flowing out of the lion's mouth), and the Karnali, or Magcha-Khambab (the river flowing out of the peacock's mouth) ...